जासं, बैरिया (बलिया) : स्थानीय थाना क्षेत्र के गोपालपुर मौजा में बाढ़ खंड द्वारा तीन भाइयों की जमीन अधिग्रहण करने के बाद उन्हें मुआवजा देने में मनमानी का मामला प्रकाश में आया है। एक भाई को तीन हिस्से में एक हिस्सा न देकर आधा दे दिया गया। इससे नाराज एक भाई ने उपजिलाधिकारी का दरवाजा खटखटाया है। उपजिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए हल्का लेखपाल से रिपोर्ट मांगी है कितु लेखपाल के हीलाहवाली से पीड़ित परेशान हैं।

दूबेछपरा निवासी पीड़ित देवेंद्र नाथ दुबे ने बताया है कि मेरे पिता के तीन पुत्र हैं। बाढ़ खंड ने कटान के पूर्व जो पूर्वजों की जमीन थी, उसे अधिग्रहण किया था। मौजा गोपालपुर में आराजी नंबर 55 से रकबा 0.0223 हेक्टयर व आराजी नंबर 88 से रकबा 0.0589 हेक्टयर जमीन अधिग्रहण किया कितु मुआवजा बनाते समय एक भाई को तीसरा हिस्सा की जगह आधा का हिस्सेदार बनाकर मुआवजा की धनराशि प्रदान कर दी। ऐसे में दो भाइयों के साथ अन्याय हो गया है। पीड़ित ने इस धोखाधड़ी के लिए अपने भाई व बाढ़ खंड को जिम्मेदार ठहराते हुए हिस्सेदारी के अनुसार मुआवजा देने की मांग की है। पीड़ित ने साक्ष्य के रुप में वशांवली के साथ अन्य दस्तावेज भी प्रस्तुत किया है। चेताया है कि अगर एक सप्ताह में मामले का निराकरण व कार्रवाई नहीं हुई तो उपजिलाधिकारी कार्यालय के सामने आंदोलन करुंगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस