जासं, बलिया : परिवार नियोजन कार्यक्रम को और सशक्त बनाने के उद्देश्य से अब प्रत्येक गुरुवार को जनपद के सभी स्वास्थ्य इकाइयों पर 'अंतराल दिवस' मनाया जाएगा। इस दिन अस्पताल पहुंचने वाली महिलाओं को गर्भनिरोधक के अस्थाई साधनों जैसे अंतरा गर्भनिरोधक इंजेक्शन, छाया गर्भ निरोधक गोली, गर्भ निरोधक आपातकालीन गोली आदि के बारे में जानकारी देने के साथ ही उनकी शंकाओं का समाधान भी किया जाएगा। परिवार नियोजन में निभाए जिम्मेदारी, मां और बच्चे के स्वास्थ्य की पूरी तैयारी'थीम के साथ इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाए जाने पर •ाोर दे रही है।

सीएमओ प्रीतम कुमार मिश्र ने बताया कि चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा परिवारों को नियोजित करने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। इसी के मद्देनजर शासन ने परिवार नियोजन की अस्थाई विधियों के प्रोत्साहन के लिए सभी सामुदायिक, प्राथमिक एवं उप स्वास्थ्य केंद्रों पर अब सप्ताह में एक दिन अंतराल दिवस मनाने का निर्णय लिया है। इस कार्यक्रम को उत्सव की तरह मनाया जाएगा। इसके लिए गुरुवार का दिन निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा है कि अंतराल दिवस पर इच्छुक लाभार्थी को लाने की जिम्मेदारी आशा कार्यकर्ता को दी गई है। इसके लिए उन्हें कार्यक्रम से पूर्व दो दिन इसका प्रचार एवं प्रसार करना होगा। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य शादी के बाद पहले बच्चे एवं दूसरे बच्चे के बीच तीन साल का अंतराल रखने पर विशेष ध्यान देना है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप