जासं, बलिया : क्रिमिनल एंड रेवेन्यू बार एसोसिएशन के सभागार में सोमवार को संयुक्त बार एसोसिएशन की बैठक संपन्न हुई। इसमें उपस्थित पदाधिकारियों व सदस्यों ने विचार-विमर्श के उपरांत सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया। प्रदेश में आए दिन अधिवक्ताओं की हो रही हत्याएं और प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने व अधिवक्ता कल्याण निधि में सरकार द्वारा प्रतिवर्ष दी जाने वाली धनराशि अभी तक नहीं भेजे जाने पर अधिवक्ताओं ने आक्रोश व्यक्त किया। कहा कि इन सब समस्याओं को लेकर बार काउंसिल द्वारा मुख्यमंत्री से मिलकर सार्थक पहल हेतु प्रयास किया गया लेकिन सीएम द्वारा समय नही दिया गया। सरकार के इस रवैया से बार काउंसिल द्वारा सरकार के विरोध में प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था व अधिवक्ता कल्याण निधि में राशि भेजने की मांग की लेकर विरोध दिवस मनाने का निर्णय लिया गया। जिसका सभी अधिवक्ताओं ने सर्वसम्मति से समर्थन किया। प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर अपने कार्य से विरद रह ट्रेजरी के सामने धरना प्रदर्शन में भाग लेंगे। इस अवसर पर देवेन्द्र नाथ मिश्र, अविरल ओझा सहित सिविल बाए एसो. के सभी सदस्य व पदाधिकारी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप