जागरण संवाददाता, बलिया : उप जिलाधिकारी सदर अश्वनी कुमार ने कहा कि जन शिकायतों के निस्तारण में कोई अनदेखी नहीं की जा रही है। राजस्व के मामलों के निस्तारण को लेकर प्रशासनिक अमला पूरी तरह से गंभीर है। इस दिशा में राजस्वकर्मी व पुलिस की संयुक्त टीम मौके पर जाकर भूमि संबंधित मामलों का निस्तारण कर रही है। कहीं से भी भ्रष्टाचार से जुड़ा मामला प्रकाश में आने पर त्वरित कार्रवाई भी की जा रही है। अधिकांश स्थानों से ग्रामसमाज की भूमि को अतिक्रमण से मुक्त भी कराया गया है।

उप जिलाधिकारी ने कहा कि भूमि विवाद के मामलों के निस्तारण में कई तरह के पेंच भी होते हैं। इस समय शासन की योजनाओं को हर पात्र व्यक्ति तक पहुंचाना प्राथमिकताओं में शुमार है। शासन की योजनाओं के कुशल संचालन में किसी भी गड़बड़ी पर संबंधित के विरूद्ध कार्रवाई भी की जा रही है। उप जिलाधिकारी रविवार को दैनिक जागरण कार्यालय में आयोजित प्रश्न-पहर कार्यक्रम में पाठकों के सवालों का जवाब दे रहे थे।

प्रस्तुत हैं सवाल-जवाब के प्रमुख अंश-:

प्रश्न : एक खाते में दो नम्बर से जमीन है, इसके लिए रजिस्ट्रेशन शुल्क दो बार लिया गया है।

उत्तर : इसकी शिकायत तहसील स्थित कार्यालय में करें।

प्रश्न : जुलाई माह में गांव के खलिहान की जमीन से अवैध कब्जा हटाने के लिए शिकायत किया था अभी तक स्थिति जस की तस बनी है।

उत्तर : आप रसड़ा एसडीएम से मिलकर शिकायत करें, मामले का निस्तारण हो जाएगा।

प्रश्न : रसतर कस्बा में दंबग किस्म का एक व्यक्ति वृद्ध महिला की जमीन पर काबिज होना चाह रहा है। इसको लेकर उससे हमेशा विवाद करना चाहता है।

उत्तर : यह मामला सिकन्दरपुर एसडीएम के संज्ञान में है इसमें रिपोर्ट लग गई है। विवाद न हो इसके लिए थानाध्यक्ष को निर्देश कर दे दिया गया है।

प्रश्न : मिड्ढी चौराहे से काजीपुरा क्रांसिग जाने वाली सड़क पर लोड़ ज्यादा होने के कारण मोहल्लेवासियों को परेशानी हो रही है। इसे वन-वे किया जाए।

उत्तर : आपकी मांग को ध्यान में रखते हुए जल्द ही इस समस्या का समाधान किया जाएगा।

प्रश्न : ददरी मेला वाले स्थान पर राजपूत नेवरी का कब्रिस्तान है। इसमें आपके कोर्ट में मुकदमा विचाराधीन है। जल्द कोई निर्णय हो।

उत्तर : यह मुकदमा विवादित है। अगली तारीख को दोनों पक्षों की दलीले सुनने के बाद निर्णायक निर्णय सुनाया जाएगा।

प्रश्न : मेरी लड़की की शादी फेफना थाना के एक गांव में हुई है। शादी के कुछ वर्ष बाद उसे ससुराल वाले निकाल दिए है। थाना पर मुकदमा भी दर्ज नहीें हो रहा है।

उत्तर : आप सोमवार को थाना पर पहुंचे, वहां अपका मुकदमा जरूर दर्ज होगा।

प्रश्न : गांव के खलिहान के जमीन पर कुछ लोग गोबर रख कर उपला पाथ रहे हैं।

उत्तर: इसकी लिखित शिकायत उपलब्ध करवाएं, उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

प्रश्न : पिता यूपी पुलिस में उपनिरीक्षक है, शहर के पास एक जमीन उनके नाम से खरीदा था। उसी खाते का एक और हिस्सेदार परेशान करने के लिए मुकदमा किया है।

उत्तर : जब मुकदमा है तो तारीख के दिन दोनों पक्षों की सुनवाई करने के बाद सुनवाई की जाएगी।

प्रश्न : सांसद द्वारा गोद लिया गया गांव ओझवलिया में अभी तक दर्जनों पात्रों का शौचालय नहीं बने है। सफाईकर्मी गांव में नहीं आते है।

उत्तर : ग्रामसभा के विकास की समस्या को लेकर डीपीआरओ से शिकायत करें।

प्रश्न : तुरहा जाति का प्रमाणपत्र बन रहा है या नहीं।

उत्तर : किसी भी जनसेवा केन्द्र से ऑनलाइन आवेदन करें उसके बाद नहीं बन रहा है तो जिलाधिकारी के यहां आवेदन करें ।

प्रश्न : मझौली गांव में कोटेदार प्रति यूनिट एक रुपये अधिक पैसा ले रहे हैं।

उत्तर : दो दिन के अंदर मौके पर कोई जांच के लिए जाएगा।

प्रश्न : गांव में दो स्थानों पर ग्राम समाज की जमीन है क्या दोनों एक स्थान पर हो सकती है।

उत्तर : नहीं हो सकती है। यह अधिकार शासन का है वो चाहे तो कर सकता है।

प्रश्न : ग्रामसभा का गड़हा को गांव के दबंग किस्म के लोग कब्जा कर लिया है। खाली नहीं कर रहे ।

उत्तर : दो दिन में मौके पर संबंधित अधिकारी पहुंच खाली करवाएंगे। -- इन्होंने पूछे प्रश्न.........

रमेश पाण्डेय बराबांध गड़वार, युद्विष्ठिर ठाकुर पुलिस लाइन टैगोरनगर, मकसुधन शर्मा बडकाखेत नरही, अनुराग दुबे ओझवलिया, गोलू सेमरी छाता, हरेराम चौरसिया फेफना, हरिकेश यादव फतेहपुर चिलकहर, हरगुन रतसड़, देवनाथ सिंह मिढ्ढी, कन्हैया अग्रवाल चौक, श्रीराम जन्म रसड़ा, रमेश बजहा शंकरपुर, रोहित कुमार जिगनीखास, विनोद राय कैथवली, सत्यप्रकाश भलूही सुखपुरा, चंदन सिंह तीतौली सिकन्दरपुर आदि।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस