संवादसूत्र, बहराइच : खुफिया एजेंसी व पुलिस ने संयुक्त अभियान चलाकर ट्विटर पर अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मामले में उन्माद फैलाने के तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। खुफिया एजेंसियों के अनुसार तीनों आरोपी पीएफआइ (पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) व एसडीपीआइ (सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया) के सक्रिय सदस्य हैं। इनके तार सऊदी अरब, दिल्ली, लखनऊ समेत कई जगहों से जुड़े बताए गए हैं। 24 घंटे पूछताछ के बाद गुरुवार को पुलिस ने तीनों पर मुकदमा दर्ज कर जेल रवाना कर दिया। साथ ही इनके नेटवर्क को खंगालने में खुफिया एजेंसियां जुटी हुई हैं।

बताते चलें कि अयोध्या में रामजन्म भूमि मंदिर निर्माण शुभारंभ कार्यक्रम को लेकर पहले से ही अलर्ट जारी किया गया था। इसी के आधार पर पुलिस व खुफिया तंत्र सरहद के साथ ही सोशल मीडिया पर नजरें गड़ाए हुए थे। बुधवार को ट्विटर पर अयोध्या कार्यक्रम को पोस्ट कर उन्माद फैलाने की कोशिश शुरू की गई, तभी खुफिया एजेंसियां सतर्क हो गईं और जरवल में छापामारी कर डॉ. अलीम अहमद की क्लीनिक से उन्हें समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया। तीनों को देर रात तक पुलिस व खुफिया विभाग के अधिकारी पूछताछ में जुटे रहे। पुलिस सूत्रों का कहना है कि यह लोग अयोध्या कार्यक्रम के जरिए विशेष समुदाय के लोगों में आक्रोश फैलाना चाह रहे थे। इनकी मदद दिल्ली, लखनऊ व सऊदी अरब में बैठे लोग आर्थिक रूप से कर रहे थे। पूछताछ में इनकी पहचान जरवल के अट्ठैसा निवासी डॉ. अलीम, मुहल्ला सराय काजी निवासी साहिबे आलम व कमरुद्दीन के रूप में हुई है। इनमें साहिबे आलम एसडीपीआइ का पूर्व जिलाध्यक्ष है।

-----------

समय रहते सक्रिय नहीं होती खुफिया एजेंसी तो सफल होती कोशिश

-अयोध्या में हो रहे कार्यक्रम को गलत तरीके से सोशल मीडिया पर प्रसारित कर विशेष समुदाय में आक्रोश पैदा करने की योजना थी। समय रहते एजेंसियों को जानकारी हो गई, जिससे उनका मंसूबा नाकाम हो गया।

---------------

जिले में सक्रिय संगठन ने उड़ाई एजेंसियों की नींद

-दो संगठनों के गिरफ्तार तीन सदस्यों से उनके नेटवर्क खंगाले जा रहे हैं। तीन सदस्यों के सामने आने के बाद पीएफआइ व एसडीपीआइ के बहराइच में सक्रिय होने के सबूत ने सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ा दी है।

-------------

-तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यह लोग अयोध्या मामले में उन्माद फैलाने की कोशिश में लगे हुए थे। इनके नेटवर्क को खंगाला जा रहा है।

-डॉ. विपिन मिश्र, एसपी

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस