Move to Jagran APP

Leopard Attack: घर में खेल रही बच्‍ची पर झपट्टा मारकर उठा ले गया तेंदुआ, गन्ने के खेत में इस हाल में मिला शव, देखकर कांप गए अधिकारी

Leopard Attack in Bahraich शमा अपनी दो बहनों के साथ खेल रही थी। खेलते-खेलते दोनों बहने अपने कमरे में चली गईं जबकि शमा पीछे रह गई। उसपर पहले से ही घात लगाए बैठे तेंदुए ने झपट्टा मारकर उठा ले गया। रात को शमा को कमरे में न पाकर परिजनों को चिंता हुई तो उन्होंने खोजबीन शुरू की और सूचना वन विभाग को दी। सुबह गन्‍ने के खेत में शव मिला।

By Jagran News Edited By: Vivek Shukla Wed, 01 May 2024 11:54 AM (IST)
Leopard Attack: घर में खेल रही बच्‍ची पर झपट्टा मारकर उठा ले गया तेंदुआ, गन्ने के खेत में इस हाल में मिला शव, देखकर कांप गए अधिकारी
तेंदुए के आतंक से डरे हुए हैं ग्रामीण।

 जागरण संवाददाता, बिछिया (बहराइच)। कतर्नियाघाट वन्य जीव प्रभाग के धर्मापुर रेंज अंतर्गत धर्मापुर गांव में बीती रात तेंदुआ ने कहर बरपा दिया। उसने गांव निवासी चुन्नु की आठ वर्षीय बालिका शमा पर झपट्टा मारकर उठा ले गया। इस दौरान वह अपनी बहनों के साथ घर में खेल रही थी। गन्‍ने के खेत में बच्‍ची का क्षत विक्षत शव मिला है। घटना से गांव में हड़कंप मच गया है।

बताया जा रहा है कि शमा अपनी दो बहनों के साथ खेल रही थी। खेलते-खेलते दोनों बहने अपने कमरे में चली गईं जबकि शमा पीछे रह गई। उसपर पहले से ही घात लगाए बैठे तेंदुए ने झपट्टा मारकर उठा ले गया। रात को शमा को कमरे में न पाकर परिजनों को चिंता हुई तो उन्होंने खोजबीन शुरू की और सूचना वन विभाग को दी।

इसे भी पढ़ें- शादी के बाद पूजा के लिए जा रहा था परिवार, सरयू नदी में नाव पलटी, तीन डूबे, एक महिला की मौत

कमरे के बाहर खून के निशान होने से वन विभाग ने पगचिन्हों के मध्ययम से उसका पीछा किया। रात भर पेट्रोलिंग करते रहे लेकिन कोई शुराग नहीं मिला। सुबह घर से कुछ दूरी पर गन्ने के खेत में उसका शव क्षत विक्षत अवस्था में पाया गया। शव को देखकर मौके पर मौजूद अधिकारी कांप गए।

इसे भी पढ़ें- पेट्रोल पंप की एनओसी के लिए अब नहीं लगाना पड़ेगा चक्कर, अधिकारियों को दिया गया यह निर्देश

रेंजर मोबीन आरिफ ने शव को बरामद किया। घटना की सूचना मिलते ही थाना मुर्तिहा की पुलिस भी मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

रेन्जर ने बताया कि मृतक के परिजनों को आर्थिक सहायता के रुप में 10 हजार रुपया दिया गया है। पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी होने के बाद राजस्व विभाग की तरफ से परिजनों को पांच लाख का मुआवजा दिया जाएगा। साथ पेट्रोलिंग बढ़ा दी गयी है।