Move to Jagran APP

बागपत में महिला का जबरन प्रसव कराने का प्रयास, मारपीट में जबड़ा तोड़ा; डॉक्टरों को कराना पड़ा यह काम

दरवाजा खोला तो पत्नी के मुंह से खून निकल रहा था और चेहरे पर चोटों के निशान थे। पीड़ित ने पुलिस को बताया कि महिला चिकित्सक ने उन्हें बताया कि आशु की हालत गंभीर है और बाहर से सर्जन बुलाया जा रहा है लेकिन रात तीन बजे तक भी सर्जन नहीं आया जिससे उसकी पत्नी की हालत बिगड़ गई। वह गंभीर हालत में पत्नी को लेकर आरोग्य हास्पिटल पहुंचे।

By Jagran News Edited By: Mohammed Ammar Mon, 17 Jun 2024 11:41 PM (IST)
बागपत में महिला का जबरन प्रसव कराने का प्रयास, मारपीट में जबड़ा तोड़ा; डॉक्टरों को कराना पड़ा यह काम
बागपत में महिला का जबरन प्रसव कराने का प्रयास

जागरण संवाददाता, बड़ौत (बागपत) : महिला का जबरन प्रसव कराने के लिए उसके साथ मारपीट की गई, इसमें उसका जबड़ा टूट गया। हालत बिगड़ने पर स्वजन ने महिला को दूसरे अस्पताल में आपरेशन से उसका प्रसव कराया। जच्चा-बच्चा आइसीयू में हैं। महिला के पति ने महिला चिकित्सक और अस्पताल की प्रबंधक उसकी सास के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। बड़ौत के मनीष ने दर्ज कराई एफआइआर में बताया कि उसकी पत्नी आशु की डिलीवरी का समय नजदीक था।

14 जून की रात लगभग आठ बजे चेकअप के लिए उसे संतोष नर्सिंग होम में ले गए। नर्सिंग होम में डा. रश्मि दांगी व उनकी सास संतोष मौजूद थीं। डा. रश्मि ने ब्लड टेस्ट कराने के बाद एक-दो घंटे के बीच सामान्य डिलीवरी कराने का आश्वासन दिया।

उसकी पत्नी को आपरेशन वार्ड में ले गए और उन्हें बाहर बैठने को कहा गया। आरोपितों ने उसकी पत्नी पर नार्मल डिलीवरी करने का दबाव बनाया और उसके साथ मारपीट की, जिससे उसके जबड़े में दो फ्रेक्चर हो गए। बाहर उन्हें रोने की आवाज सुनाई दी तो उन्होंने दरवाजा खुलवाना चाहा, लेकिन दरवाजा नहीं खोला गया।

कुछ देर बाद दरवाजा खोला तो पत्नी के मुंह से खून निकल रहा था और चेहरे पर चोटों के निशान थे। पीड़ित ने पुलिस को बताया कि महिला चिकित्सक ने उन्हें बताया कि आशु की हालत गंभीर है और बाहर से सर्जन बुलाया जा रहा है, लेकिन रात तीन बजे तक भी सर्जन नहीं आया, जिससे उसकी पत्नी की हालत बिगड़ गई। वह गंभीर हालत में पत्नी को लेकर आरोग्य हास्पिटल पहुंचे।

चिकित्सकों ने आपरेशन से उसकी पत्नी की डिलीवरी कराई। आशु के जबड़े का आपरेशन भी कराया गया। इंस्पेक्टर संजय कुमार शर्मा ने बताया कि मनीष की तहरीर पर डा. रश्मि दांगी व उनकी सास संतोष दांगी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। डा. रश्मि दांगी ने इस संबंध में कुछ भी बोलने से मना कर दिया। उधर, सीएमओ डा. महावीर सिंह ने बताया कि मामला गंभीर है। पीड़ित इस मामले की शिकायत करता है तो जांच कराई जाएगी।