बागपत, जेएनएन। गणित और विज्ञान विषय छात्रों के पढ़ाई को सबसे ज्यादा प्रभावित करते हैं। समझने के लिए बहुत ज्यादा परेशानी होती है। छात्रों में व्याप्त उलझनों को दूर करने के उद्देश्य से अध्यापकों के लिए वीडियो बनाओ प्रतियोगिता आयोजित होगी। वीडियो सरल भाषा में और कम समय में बनानी होगी, जिससे बच्चे समझ सकें।

परिषदीय विद्यालयों के विद्यार्थियों में विज्ञान, गणित और सामाजिक अध्ययन आदि विषयों को लेकर उलझने हैं। दैनिक जीवन तथा परिवेश से जुड़ी समस्याओं का समाधान करने और बच्चों में जिज्ञासु बनाने, कब, क्यों और कैसे आदि प्रश्नों को पूछने और उनके उत्तर खोजने की प्रवृत्ति का विकास करने की सबसे ज्यादा जरूरत है, ताकि बच्चे शुरू से ही दैनिक जीवन में विज्ञान, गणित सहित सामाजिक अध्ययन विषय की अवधारणाओं को अनुप्रयोग करते हुए सीख सकें। इसी सोच को विकसित करने के लिए अध्यापकों की वीडियो निर्माण प्रतियोगिता रखी गई है। इसमें परिषदीय विद्यालयों के अध्यापक प्रतिभाग करेंगे।

बीएसए राघवेंद्र सिंह ने कहा कि सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया जा चुका है। अध्यापकों को प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए प्रेरित करेंगे।

इनसेट:

ऐसे तैयार करनी है वीडियो

इस प्रतियोगिता में प्रतिभागियों की कक्षा छह से आठ की विज्ञान गणित, सामाजिक विषय की पुस्तकों में निहित अवधारणाओं को स्पष्टता के लिए कम समय का वीडियो तैयार करना है। वीडियो को सरल भाषा एवं रोचक प्रस्तुतीकरण के साथ अवधारणा को स्पष्ट करता हो। विषय वस्तु तथा अवधारणा स्पष्ट होनी चाहिए। परिवेश में उपलब्ध होने वाली सामग्री से बनी हो। दिखायी गई गतिविधि जोखिम रहित होनी चाहिए।

---------

डायट में होगी प्रतियोगिता

यह वीडियो मेकिंग प्रतियोगिता जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्था में आयोजित होगी। 30 अक्टूबर तक वीडियो डायट पर और 15 नवंबर तक राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद उत्तर प्रदेश को उपलब्ध कराई जाएगी। जनवरी 2022 तक राज्य स्तर पर स्क्रीनिग एवं परिणाम की घोषणा होगी। स्क्रीनिग विशेषज्ञों के पैनल के माध्यम से कराई जाएगी। विशेषज्ञों के पैनल में कम से कम तीन वाह्य विशेषज्ञों को रखा जाएगा। पैनल में शिक्षक नहीं होंगे।

----------

सबसे अच्छी वीडियो दीक्षा

पोर्टल पर भी होगी अपलोड

--वीडियोज का मूल्याकंन एनसीईआरटी द्वारा वाह्य विशेषज्ञों के पैनल द्वारा कराया जाएगा। सबसे अच्छी वीडियो बनाने वाले शिक्षकों को पुरस्कृत किया जाएगा। क्यूआर कोड से लिक कर दीक्षा पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा।

Edited By: Jagran