बड़ौत डिपो की बल्ले-बल्ले, लक्ष्य से ज्यादा लाखों की कमाई

बागपत, जेएनएन। बड़ौत डिपो को हर रोज निर्धारित लक्ष्य से जयादा आमदनी हो रही है। इससे रोडवेज विभाग के अधिकारी गदगद नजर आ रहे हैं। बड़ौत डिपो की बसें गोरखपुर, लखनऊ, कानपुर, ऋषिकेष, आगरा, टनकपुर आदि शहरों तक संचालित हो रही हैं। डिपो के स्टेशन अधीक्षक प्रभारी नरेंद्र मान ने बताया कि डिपो को बसों से निर्धारित लक्ष्य से ज्यादा आमदनी हो रही है। इसका कारण है कि एक तो सड़कों पर डग्गामार बसों का संचालन कम हो गया है, चूंकि डग्गामार बसों के खिलाफ अभियान चल रहा है। दूसरा ट्रेनों का संचालन कम हो रहा है तो ट्रेनों में चलने वाले यात्री बसों में सफर कर रहे हैं और तीसरा बड़ा कारण यह है कि आजकल कोराेना का असर कम देखने को मिल रहा है जिससे लोग अब बसों में सफर करने लगे हैं। डिपो में 55 निगम और 39 अनुबंधित बसें हैं। ---- इन मार्गों पर हो रही ज्यादा आमदनी -आनंद बिहार, दिल्ली से आठ बसों का संचालन कानपुर, लखनऊ और गोरखपुर तक होता है। -दिल्ली से 12 बसों का संचालन मेरठ होते हुए हरिद्वार और ऋषिकेश तक होता है। -नोएडा सेक्टर 62 से दो बसों का संचालन आगरा तक होता है। -बड़ौत से दो बसों का संचालन टनकपुर तक होता है। ---- ज्यादा कमाई के तीन कारण -डग्गामार बसों के खिलाफ कार्यवाही का होना। -कोरोना काल के संकट से कुछ राहत मिलना। -पैसेंजर ट्रेनों का कम संख्या में संचालन होना। --- लक्ष्य से ज्यादा इतनी हुई आमदनी निर्धारित 14,49,000 रुपए के सापेक्ष नौ मई को 18,20,000 रुपए, दस मई को 16,22,000 रुपए, 11 मई को 16,43,000 रुपए, 12 मई को 15,38,000 रुपए, 13 मई को 15,26,000 रुपए, 14 मई को 15,49,000 रुपए व 15 मई को 17,24,000 रुपए आमदनी हुई है।

Edited By: Jagran