बागपत, जेएनएन। मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी वीके राठी ने बताया कि बुधवार को पांची गांव में ऊमरूद्दीन की भट्ठी पर छापेमारी की गई। यहां पर मावे में मिलाए जाने वाले मिल्क पाउडर रखा मिला।

वहीं, मावे में पाउडर भी मिलाया जा रहा था, जोकि लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ है। मौके पर ही सवा कुंतल मिल्क पाउडर को सील करने की कार्रवाई की गई। भट्ठे से मावे और पाउडर के नमूने लिए गए है। उसके बाद टीम ने बड़ौत क्षेत्र के बड़का गांव के प्राथमिक विद्यालय में पहुंचे। यहां पर बच्चों के लिए बनाई गई आलू, टमाटर और सोयाबीन की सब्जी को मिक्स कराकर नमूने लिए गए। इसके अलावा इसी गांव में आंगनबाड़ी केंद्र से चावल, बिनौली रोड बड़ौत में लक्ष्मी स्वीट्स से बेसन के लड्डू के नमूने लेकर जांच के लिए भेजे गए है। नमूने फेल आने पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। खाद्य सुरक्षा अधिकारी रमेशचंद और एमपी सिंह मौजूद रहे। पटाखों के कारोबार का राजफाश, एक गिरफ्तार

ग्राम दत्तनगर में पुलिस ने मंगलवार रात गांव में छापमारी की। इससे भगदड़ मच गई।

बालैनी थाना प्रभारी रामनिवास का कहना है कि आरोपित रहीसुद्दीन पुत्र वकील निवासी ग्राम दत्तनगर को गिरफ्तार किया। उसके पास से अवैध 31 किलोग्राम विस्फोटक पदार्थ (पटाखे) तथा 5,700 रुपये बरामद हुए है। पूछताछ में पता चला कि आरोपित पटाखे बेच रहा था। आरोपित रहीसुद्दीन को बुधवार को अदालत में पेश किया। उसे न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है। नहीं रुक रहा पटाखों का अवैध कारोबार

दीपावली के पर्व से पहले ही जनपद में बड़े स्तर पर पटाखों का अवैध कारोबार हो रहा है। इसका अमीनगर सराय, बालैनी, बड़ौत समेत कई स्थानों पर राजफाश हो चुका है।

Edited By: Jagran