बागपत, जेएनएन। गर्मी का प्रकोप झेल रहे लोगों को बारिश ने राहत पहुंचाई है। दो दिन से बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया गया था, लेकिन बुधवार की दोपहर में बदरा बरसे। गर्मी से तो राहत पहुंची ही, किसानों के भी चेहरे खिल गए है। तेज धूप की वजह से जमीन से नमी कम होती जा रही थी।

बुधवार की सुबह से ही आकाश में बादल छाने शुरू हो गए थे, लेकिन गर्मी का सितम कम नहीं हो रहा था। दोपहर में एकाएक मौसम ने करवट बदली और झमाझम बारिश होनी शुरू हो गई थी। दिल्ली-सहारनपुर हाइवे से लेकर गली, मोहल्ले में जलभराव हो गया है। बारिश का लुत्फ उठाने के लिए बच्चे से लेकर बड़े घरों की छतों पर और घरों के बाहर खड़े होकर नहाने लगे। हाइवे पर चलने वाले वाहन चालकों को जलभराव से थोड़ी परेशानी हुई है। वहीं किसानों के चेहरे खिल गए है। फसलों की सिचाई हो गई। किसी फसल को नुकसान नहीं पहुंचा है। उन किसानों को ज्यादा लाभ पहुंचा है जिनकी लंबे समय से भूमि की सिचाई नहीं हुई और धीरे-धीरे नमी खत्म होती जा रही थी। उन किसानों ने राहत की सांस ली है।

----------

बारिश से मिली राहत

संवाद सूत्र, चांदीनगर : पिछले दो दिनों से लगातार गर्मी के कारण लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही थी। देहात के लोगों ने गर्मी से राहत को खेतों की तरफ रूख कर लिया था। लोग नलकूपों का भी सहारा ले रहे थे। बुधवार दोपहर अचानक मौसम ने करवट ली और हल्की बारिश होने लगी। बारिश से लोगों को गर्मी से काफी राहत मिली।

Edited By: Jagran