बागपत, जागरण संवाददाता। सिंघावली अहीर थाना पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट में तीन आरोपितों की मकानों की कीमत लगभग 51.98 लाख रुपये की संपत्ति कुर्क किया गया।

तीनों के ख‍िलाफ गैंगस्‍टर एक्‍ट में दो मुकदमें दर्ज

सिंघावली अहीर थाना क्षेत्र के ग्राम बिचपड़ी में गैंगस्टर एक्ट के तहत तीन आरोपित चारू पुत्र बबली की रिहायसी भूमि 102. 34 वर्ग मीटर पर बने मकान कीमत लगभग 23.43 लाख रुपये व गांव में ही रिहायसी भूमि 40.98 वर्ग मीटर पर बने दूसरे मकान कीमत लगभग 13.08 लाख रुपये की संपत्ति कुर्क किया गया। आरोपित आरिफ पुत्र अजमुद्दीन के ग्राम बिचपड़ी में रिहायसी भूमि 36.72 वर्ग मीटर पर बने मकान कीमत लगभग 06.48 लाख रुपये की संपत्ति कुर्क किया गया। आरोपित वसीम पुत्र लियाकत की गांव में भूमि 36.13 वर्ग मीटर पर बने मकान जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 8.27 लाख रुपये की संपत्ति को कुर्क किया गया। तीनों आरोपितों के खिलाफ गोवध अधिनियम और गैंगस्टर एक्ट के दो मुकदमें दर्ज है। सीओ बागपत डीके शर्मा को कुर्क संपत्ति का प्रशासक नियुक्त किया गया है। सुरक्षा की दृष्टि से मौके पर भारी पुलिस बल तैनात रहा।

पूर्व विधायक के हत्यारोपित बेटों के घर की कुर्की

बुलंदशहर। पूर्व ब्लाक प्रमुख हाजी यूनुस के काफिले पर पांच दिसंबर 2021 को कोतवाली देहात क्षेत्र के गांव भाईपुरा पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी गई थी। फायरिंग में युनूस के साथी खालिद की गोली लगने से मौत हो गई थी। इस मामले में हाजी अलीम के चार बेटों सहित छह नामजद और 8-10 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। बसपा के पूर्व विधायक मरहूम हाजी अलीम के चार बेटे जैद, अनस, दानिश और असद को भी उनके चाचा हाजी युनूस ने नामजद किया था। असद अपने पिता हाजी अलीम की हत्या के मामले में वारदात से पूर्व ही जेल में बंद है। डेढ़ माह पूर्व आरोपित दानिश को भी पुलिस ने जेल भेज दिया था। नामजद जैद और अनस अभी भी फरार हैं। पुलिस ने चार माह पूर्व कुर्की का नोटिस चस्पा किया था। शनिवार को कोतवाली देहात प्रभारी जयकरण सिंह पुलिस टीम के साथ सरायधारी स्थित पूर्व विधायक के घर पहुंचे और कुर्की की कार्रवाई की।

Edited By: Taruna Tayal

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट