बागपत, जेएनएन। दूसरे दिन शनिवार को कलक्ट्रेट में कड़ी सुरक्षा में नामांकन प्रक्रिया चली, लेकिन नामांकन करने कोई नहीं आया है। अब दो विधायकों समेत कुल 22 लोगों के नाम से पर्चे बिके हैं। विभिन्न दलों के उम्मीदवार घोषित होने से सोमवार को नामांकन हो सकते हैं।

कलक्ट्रेट परिसर में चकबंदी कोर्ट कक्ष में छपरौली विधानसभा सीट, एडीएम कोर्ट कक्ष में बड़ौत और डीएम कोर्ट कक्ष में बागपत सीट के लिए नामांकन प्रक्रिया चली। कलक्ट्रेट में काफी संख्या में पुलिस और पीएसी के जवान मुस्तैद रहे। फायर ब्रिगेड की गाड़ी रही और ड्रोन कैमरे से निगरानी की गई। सीओ ने ड्यूटी प्वाइंट पर मुस्तैद रहने के बजाय चाय की दुकान पर बैठे पीएसी के कई जवानों को फटकार लगाई।

वाहनों को कलक्ट्रेट से 100 मीटर पहले रोके गए। नामांकन कक्ष में दो लोगो से ज्यादा को एक साथ नहीं जाने दिए। प्रात: 11 से अपराह्न तीन बजे तक चुनाव अधिकारी उम्मीदवारों के इंतजार में बैठे रहे, लेकिन नामांकन करने कोई नहीं आया। केवल 11 पर्चे

बिके । गत दिवस भी 11 नामांकन पत्र बिके थे।

-------

कांपते रहे लोग

-कलक्ट्रेट परिसर में अलाव नहीं जलने से वहां ड्यूटी कर रहे पुलिस कर्मी तथा वहां फरियादी कड़ाके की ठंड से कांपते

रहे।

--------

इनके नाम से खरीदे पर्चे

शनिवार को बड़ौत सीट से भाजपा विधायक कृष्णपाल मलिक, जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सतेंद्र खोखर, सोहनबीर, सुधीर और जयवीर सिंह के नाम से नामांकन पत्र खरीदे गए। बागपत विधानसभा सीट से अनुज कुमार, अनिल देव त्यागी, रोबिन सिंह और

छपरौली सीट से विधायक सहेंद्र सिंह रमाला तथा योगेंद्र सिंह के नाम से नामांकन खरीदे गए।

----------

कुल बिके नामांकन पत्र

क्षेत्र बिके पर्चे

छपरौली 06

बड़ौत 10

बागपत 06

Edited By: Jagran