बागपत, जागरण टीम। बुधवार को कोरोना का विस्फोट हो गया है। जिले में विभिन्न स्थानों पर 20 लोगों को कोरोना ने चपेट में लिया है।

सीएमओ डा. आरके टंडन ने बताया कि कोरोना वायरस अब तेजी के साथ लोगों के शरीर में प्रवेश कर रहा है। 20 लोग संक्रमित हो गए हैं। अब जिले में 55 एक्टिव केस हो गए हैं। इनमें कोविड-19 अस्पताल खेकड़ा में भर्ती कराए गए, यहां पर 19 लोग भर्ती है। बाकी होम आइसोलेशन पर है और कुछ आस-पास के जिलों के अस्पतालों में भर्ती हुए है। उन्होंने बताया कि जिला पंचायत कार्यालय के छह कर्मचारी एक साथ संक्रमित हुए हैं। वहीं कोर्ट से एक कर्मचारी और एक अधिवक्ता भी पाजिटिव हुए है। कंटेनमेंट जोन क्षेत्र घोषित कर दिया गया है। वहीं सैनिटाइजेशन कराया जा रहा है। जिले में कोरोना का वायरस अब तेजी के साथ बढ़ रहा है तो सभी को सावधानियां बरतने की जरूरत है। आठ और नौ को कोर्ट में अवकाश

जनपद न्यायालय के प्रशासनिक अधिकारी मिलेंद्र कुमार सरस ने बताया कि एक वाहन चालक और एक अधिवक्ता कोरोना संक्रमित होने के कारण जनपद न्यायालय का आठ और नौ अप्रैल को अवकाश रहेगा। सुनवाई 13 और 14 अप्रैल को होगी। कोरोना इलाज को अस्पताल अधिसूचित

जागरण संवाददाता, बागपत: कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए शासन ने प्रदेश में 70 अस्पतालों को अधिसूचित किया हैं। बागपत के लिए सीएचसी खेकड़ा को पुन: अधिसूचित किया है। शासन में अपर मुख्य सचिव चिकित्सा अनुभाग अमित मोहन प्रसाद ने बागपत समेत सभी डीएम को उन अस्पतालों की सूची भेजी है, जहां कोरोना मरीज भर्ती किए जाएंगे।

सीएमओ को अधिसूचित अस्पताल में नोडल अधिकारी को नियुक्त करने का आदेश दिया। अपर मुख्य सचिव ने कहा कि निजी अस्पतालों में कोरोना मरीजों से शासन द्वारा निर्धारित फीस से ज्यादा वसूलने पर कार्रवाई होगी। बता दें कि कोरोना वायरस तेजी से पैर पसार रहा है, इसलिए अब आम जन को बेहद सावधान रहने की जरूरत है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021