Move to Jagran APP

कम जेवर देख दूल्हे ने किया शादी से इन्कार, बोला- अब नहीं करूंगा शादी- लड़की वाले ले गए थाने और फिर...

मामला बिल्सी थाना क्षेत्र के एक गांव का है। गांव निवासी युवती की गुरुवार को फैजगंज बेहटा क्षेत्र के गांव सिसरका से बरात आई थी। द्वाराचार के बाद दावत शुरू हुई। वरमामा की रस्म भी हो गई। इसके बाद जब सात फेरों की बारी आई तो दूल्हा अचानक मंडप से उठ गया। आरोप लगाया कि दुल्हन की मां ने उसकी बेइज्जती कर दी।

By Kamlesh Kumar Sharma Edited By: Mohammed Ammar Fri, 21 Jun 2024 11:01 PM (IST)
UP Police : पुलिस ने थाने में कराया समझौता।

संस जागरण, बिल्सी : सात फेरों से ठीक पहले लड़की को चढ़ाने के लिए लाए गए जेवर कम होने पर दूल्हा और उसके परिवार वाले नाराज हो गए। शादी से इन्कार कर दिया। मामला तूल पकड़ गया। दोनों पक्ष आमने सामने आ गए। लड़की पक्ष ने दहेज की मांग को लेकर पुलिस से शिकायत कर दी। पुलिस दूल्हा समेत दोनों पक्षों को थाने ले गई। जहां शुक्रवार सुबह तक पंचायत चलती रही। बाद में पुलिस ने समझौता करा दिया। इसके बाद फेरे हुए और दूल्हा दुल्हन को विदा कराकर ले गया।

मामला बिल्सी थाना क्षेत्र के एक गांव का है। गांव निवासी युवती की गुरुवार को फैजगंज बेहटा क्षेत्र के गांव सिसरका से बरात आई थी। द्वाराचार के बाद दावत शुरू हुई। वरमामा की रस्म भी हो गई। इसके बाद जब सात फेरों की बारी आई तो दूल्हा अचानक मंडप से उठ गया। आरोप लगाया कि दुल्हन की मां ने उसकी बेइज्जती कर दी। कहा कि वह लोग लड़की के लिए बताए गए जेवर से कम लाए। दोनों पक्षों के बीच कहासुनी शुरू हो गई।

दुल्हन की मां ने आरोप लगाया कि वर पक्ष के लोगों ने अचानक दहेज की मांग बढ़ा दी और अभद्रता की। सूचना पुलिस को दी गई। मामला बिगड़ता देख पुलिस दोनों पक्षों को थाने ले गई। पुलिस और गांव के संभ्रांत लोगों ने दोनों पक्षों के बीच मध्यस्थता कराई। इसके बाद दुल्हन ससुराल के लिए विदा हुई। बिल्सी थाने के इंस्पेक्टर क्राइम उमेश कुमार ने बताया कि समझौता होने के बाद राजी खुशी शादी हुई। मामला शांत है।