Move to Jagran APP

बदायूं में दंपती का आरोप, भाजपा को वोट देने पर युवक ने किसान के बेटे का मुंडवाया सिर

मानसिक रूप से कमजोर अनुसूचित जाति के बालक से आमनवीयता हुई। उसके सिर पर उस्तरा चलाया गया। इससे सिर सड़कनुमा आकार में दिखने लगा। बालक के स्वजन का आरोप है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को वोट देने पर नाई सालिम रंजिश मानने लगा था। इसी कारण सालिम ने साथियों की मदद से बालक को अपमानित किया। विरोध पर अभद्रता की जातिसूचक शब्द कहे।

By Jagran News Edited By: Abhishek Pandey Thu, 13 Jun 2024 07:39 AM (IST)
भाजपा को वोट देने की रंजिश, कृषक के बेटे का सिर मुंडवाया

जागरण संवाददाता, बदायूं। मानसिक रूप से कमजोर अनुसूचित जाति के बालक से आमनवीयता हुई। उसके सिर पर उस्तरा चलाया गया। इससे सिर सड़कनुमा आकार में दिखने लगा। बालक के स्वजन का आरोप है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को वोट देने पर नाई सालिम रंजिश मानने लगा था। इसी कारण सालिम ने साथियों की मदद से बालक को अपमानित किया। विरोध पर अभद्रता की, जातिसूचक शब्द कहे।

बुधवार को पुलिस ने सालिम व दो अज्ञात पर अभद्रता, मारपीट व एससी-एसटी प्राथमिकी पंजीकृत कर ली। देर शाम पुलिस का कहना था कि आरंभिक जांच में पता चला कि बालक की मां उसे नाई की दुकान पर छोड़कर आई थी।

महिला ने पुलिस को बताया कि मंगलवार को 12 वर्षीय बेटा सड़क पर खेल रहा था। उसी समय नाई सालिम व उसके साथियों ने बालक को पकड़ लिया। उसे दुकान पर ले जाकर अपमानित करने के लिए उस्तरा चला दिया। इसकी जानकारी पर कृषक पति के साथ नाई की दुकान पर पहुंची तो अभद्रता करने लगा। बुधवार शाम को नाई को पकड़कर थाने लाया गया। पुलिस के अनुसार, नाई कह रहा कि बालक को उसकी मां दुकान पर लाई थी।

उन्होंने कहा था कि गर्मी अधिक है इसलिए बेटे के सिर से सभी बाल काट दो। बाल काटते समय बालक अचानक कुर्सी से उठकर भाग गया। उसके सिर पर किसी पूर्वाग्रह में गलत उस्तरा नहीं चलाया गया। किसी ने बालक की मां को भड़का दिया है। इंस्पेक्टर कमलेश मिश्रा ने जांच में कई नए तथ्य पता चले हैं। उसी अनुसार कार्रवाई करेंगे।

इसे भी पढ़ें: यूपी के इस टोल से गुजरने के लिए देना होगा अतिरिक्त रुपये, बढ़ाया गया टैक्स; NHAI ने जारी की नई दरें