- बदायूं समेत शाहजहांपुर में की थी लाखों की धोखाधड़ी

- तमंचे व कारतूस भी बरामद हुए, दोनों बरेली के निवासी जागरण संवाददाता, बदायूं : एटीएम कार्ड बदलकर लोगों के खाते से रकम उड़ाने वाले दो सदस्यीय अंतरजनपदीय गिरोह को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपितों के पास से पुलिस ने विभिन्न बैंकों के 22 एटीएम कार्ड समेत दो तमंचे व कारतूस बरामद करने का दावा किया है। दोनों आरोपित बरेली के रहने वाले हैं। आरोपितों को जेल भेजा गया है।

पुलिस ने रोडवेज के पास से चेकिग के दौरान दो संदिग्ध युवकों को पकड़ा था। तलाशी में 22 एटीएम कार्ड व तमंचे बरामद इनके पास से हुए। पूछताछ में उन्होंने अपने नाम तरुण दीक्षित पुत्र राजीव प्रकाश दीक्षित निवासी गांव शिवनगर थाना अलीगंज व जितेंद्र उर्फ सोनू पुत्र दानसिंह निवासी गांव पचधेर थाना आंवला, बरेली बताया। आरोपितों ने कबूला कि वह एटीएम के आसपास घूमते रहते हैं। कोई अशिक्षित या बुजुर्ग व्यक्ति के घुसने पर पीछे से अपने कार्ड लेकर एटीएम कक्ष में दाखिल हो जाते थे। पीछे खडे़ होकर उस व्यक्ति का पासवर्ड और किस बैंक का एटीएम कार्ड है, यह जान लेते थे। उस व्यक्ति को दिक्कत होने पर उसकी मदद के नाम पर एटीएम कार्ड बदल लेते थे। बाद में किसी अन्य एटीएम पर जाकर रकम निकालते थे। जिसे खाते फर्जी दस्तावेजों के आधार पर खुलवाए खातों में ट्रांसफर कर देते थे। जिनमें से कुछ खाते झारखंड में भी है। यह घटनाएं कबूलीं

- आरोपितों ने यह भी खुलासा किया कि पिछले दिनों उन्होंने सिविल लाइंस इलाके में ही एक व्यक्ति का एटीएम कार्ड बदलकर 22 हजार सात सौ रुपये उड़ाए थे। जबकि अलापुर में एक लाख 52 हजार रुपये पार किए थे। इसके अलावा शाहजहांपुर में एक व्यक्ति के एक लाख 52 हजार तो एक के डेढ़ लाख रुपये एटीएम कार्ड बदलकर निकाले थे। वर्जन

पकड़े गए युवक बेहद शातिर हैं। दोनों को जेल भेजा गया है। यह एटीएम केबिन के पास सक्रिय होकर लोगों के एटीएम कार्ड बदलकर खाते से रकम उड़ा लेते थे।

ओपी गौतम, एसएचओ सिविल लाइंस

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप