बदायूं : थाना क्षेत्र के गांव बेहटा गुसाई में तनाव कम होने का नाम नहीं ले रहा है। शोभायात्रा पर पथराव करने वालों पर सख्त कार्रवाई न होने की वजह से एक पक्ष में आक्रोश बढ़ रहा है। एहतियातन पुलिस व पीएसी तैनात है। शुक्रवार को भी बाजार बंद रहा।

बुधवार को शाम के वक्त श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर निकाली जा रही शोभायात्रा में दूसरे समुदाय के लोगों ने पथराव किया था। पथराव और फाय¨रग के बाद हुए बवाल में ट्रेनी सीओ समेत पुलिसकर्मी घायल हुए तो प्रधानपति समेत काफी ग्रामीण भी घायल हुए थे। इसमें 16 नामजद आरोपियों पर मुकदमा तो बाकी को शांतिभंग में जेल भेजा था। शुक्रवार को भी तनाव कम नहीं हुआ। गांव में दहशत के बीच बाजार नहीं खोला गया तो महिलाएं घरों में ही दुबकी रहीं। इस वजह से गांव में चहल-पहल दिखाई नहीं दी। सिर्फ फोर्स के अलावा गांव का कोई शख्स वहां देखने को नहीं मिला। पुलिस ने शुक्रवार को घटना में घायल हुए लोगों को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा। यह वह लोग थे जो पुलिस के भय से मेडिकल परीक्षण कराने नहीं पहुंचे थे। एसएसपी चंद्र प्रकाश ने बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों को जेल भेजा गया है। गांव में तनाव जैसी कोई बात नहीं है। एहतियातन पुलिस पीएसी तैनात है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप