बदायूं : बड़ी लाइन की ट्रेन पर सफर के लिए तरस रहे जिले के लोगों में ट्रैक पर गुजरी मालगाड़ी कौतुहल का विषय बनी रही। बाद में पता चला कि इससे जगह-जगह ट्रैक पर गिट्टियां गिराई जा रही हैं।

इस साल के शुरूआत यानि पहली जनवरी से ही यहां छोटी लाइन की ट्रेनें भी बंद की जा चुकी हैं। ब्राडगेज की लाइनें तो बिछ चुकी हैं, रेलवे स्टेशनों और क्रासिंगों पर काम चल रहा है। ट्रेनों का संचालन कब तक शुरू होगा अभी कोई कुछ बताने की स्थिति में नहीं है। बुधवार को पूर्वाह्न करीब 11 बजे ट्रैक पर मालगाड़ी गुजरी तो लोगों में कौतुहल उत्पन्न हो गया। डिप्टी आरएमओ के पीआरओ राजेंद्र सिंह ने बताया कि ट्रैक पर जगह-जगह गिट्टियां गिराई जा रही हैं।

उझानी : छुक-छुक रेल चली भइ रेल चली, देखो भई रेल चली। महीनों बाद ब्राडगेज पटरी पर कासगंज से कछला, बितरोई उझानी बदायूं होती हुई बरेली जंक्शन तक मालगाड़ी देखने को खेत खलिहान में काम करने वाले व्यापारी छात्र किसान, मजदूर देखने को जीर्ण-शीर्ण रेलवे स्टेशन पर भीड़ लग गई। मीटर गेज की पटरियों को उखाड़ कर व सिंग्नल हल्ट, स्टेशरों की तोड़फोड़ कर इस पर ब्राडगेज की ट्रेन दौड़ाने के लिए विभाग के तमाम अधिकारी से लेकर कर्मचारी लगे हुए हैं। हालांकि अभी भी सिंनल स्टेशन आदि सही से खड़े नहीं हो पाए हैं। मालगाड़ी सारों, नगरिया, कछला, बितरोई, उझानी होती हुई बदायूं की तरफ रवाना हो गई। इंजन की आवाज सुन सभी लोग पटरी व स्टेशन की तरफ गाड़ी को देखने भाग खड़े हुए वहीं सभी ने माल गाड़ी के चालक को हाथ हिलाकर अभिवादन किया अब नगर व गांव के लोग समझने लगे हैं कि जल्द ही ब्राडगेज पटरियों पर ट्रेन दौड़ने लगेगी। हालांकि ट्रेन बंद होने से लाखों रुपये व्यापार मेला दशहरा, पूर्णिमा नगर की बाजार पर विपरीत असर पड़ रहा है। अब हर किसी की जुबान पर है भइया अब रेल जल्दी जल्दी शुरू हो जानी चाहिए। वहीं मालगाड़ी देखने वालों की भीड़ उमड़ पड़ी वहीं नगर वासियों के चेहरों पर माल गाड़ी देख अलग ही मुस्कान थी।