जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : आर्ट आफ लि¨वग इकाई के तत्वावधान में अध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर का अवतरण दिवस रविवार को देर रात्रि तक धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर मारवाड़ी धर्मशाला में साधना के दौरान सुदर्शन क्रिया एवं ध्यान का अभ्यास कर लोगो ने गुरु के दीर्घायु होने की कामना की। इस दौरान गुरु पूजा की गई और भजन व सत्संग का भी आयोजन किया गया।

इलाहाबाद के भजन गायक राकेश ने भजन सुनाकर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इस कार्यक्रम के संयोजक रविन्द्र बरनवाल ने सभी का आभार जताया और कहा कि श्रीश्री रविशंकर के बताए गए रास्ते पर चलकर ही जीवन को तनावमुक्त किया जा सकता है। सभी लोगों को उनके अवतरण दिवस पर यही संकल्प लेना होगा। सद्गुरु तुम्हारे प्यार ने जीना सीखा दिया, हमको तुम्हारे प्यार ने इंसा बना दिया भजन ने लोगों को तालिया बजाने पर मजबूर कर दिया वही एक भजन चाहे जितने तीरथ कर लो घूम लो सब संसार, सद्गुरु शरण में जो नहीं आया जीना है बेकार ने सभी को जीवन में गुरु कृपा के महत्व को बताया और सद्गुरु शरण में रहने की सलाह दी। बैंग्लोर से आनलाइव संदेश देते हुए श्रीश्री रविशंकर ने कहा कि एक व्यक्ति पैदा होते ही कितने रिश्तों से जुड़ जाता है। आज जरुरत है सभी को विश्व बन्धुत्व का भाव फैलाने की। लोग बिना भेदभाव के एक दूसरे की सेवा में लगे रहे। तनावमुक्त जीवन के लिए योग ध्यान, प्राणायाम, सुदर्शन क्रिया अति आवश्यक है। एक खुशी को पाने के लिए व्यक्ति जन्म लेता है और अंतिम गति को प्राप्त हो जाता है। सांस क्रिया की सही जानकारी के अभाव में पूरा जीवन निष्क्रिय होकर रह जाता है। इस अवसर पर रमाशंकर वर्मा, सुनीत, अमित मिश्रा, प्रियंका मिश्रा, डाक्टर वी कुमार, कमल गुप्ता, प्रीती रुंगटा, अंजना श्रीवास्तव, केके मौर्या, भाजपा नगर अध्यक्ष विनय गुप्ता, ओमप्रकाश अग्रवाल, सपना, धर्मेंद्र श्रीवास्तव, सौरभ वर्मा, आशीष अग्रवाल, अनिरुद्ध बर्नवाल आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस