- दुखद

- मुआवजे की मांग को लेकर ग्रामीणों ने किया रास्ता जाम

- हादसे के बाद अनियंत्रित वाहन सड़क किनारे खाई में पलटा

- मोलनापुर-बघरवां गांव के समीप सुबह हुई दर्दनाक घटना

जागरण संवाददाता, लालगंज (आजमगढ़) : देवगांव कोतवाली क्षेत्र के मोलनापुर उर्फ बघरवां गांव के समीप मंगलवार की सुबह नौ बजे बकरी को बचाने के चक्कर में बोलेरो ने बालिका को कुचल दिया। बालिका की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद ग्रामीणों ने बोलेरो में फंसी बालिका के शव को निकालकर मुआवजे की मांग को लेकर मेहनाजपुर-देवगांव मार्ग जाम करने के साथ बोलेरो को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।

मोलनापुर उर्फ बघरवां गांव की ब्यूटी (9) पुत्री धर्मेंद्र चौहान उस समय किसी काम से सड़क पर गई थी। उसी समय मेहनाजपुर की ओर से आ रही बोलेरो के सामने अचानक बकरी आ गई। यह देख चालक नियंत्रण खो बैठा और बालिका को कुचलते हुए सड़क किनारे खाई में जा गिरा। शव भी फंसकर खाई में चला गया।

उधर, हादसे की खबर के बाद ग्रामीण सड़क पर आ गए और मृतका के परिवार को मुआवजा दिए जाने की मांग करने लगे। जाम की खबर पर पहुंची देवगांव पुलिस ग्रामीणों को समझा-बुझाकर आधा घंटे बाद जाम समाप्त कराया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं बोलेरो को जेसीबी से बाहर निकलवाकर थाने ले गई। बोलेरो ड्राइवर दुर्घटना के बाद फरार हो गया। मृतका अपने मां-बाप की तीन पुत्रियो में तीसरे नंबर पर थी। माता सुनीता उर्फ गुड्डी व बहन हेना (12), रिमझिम (10) का रो-रोकर बुरा हाल था।

Edited By: Jagran