-दुस्साहस ::::

-बदमाशों की पहचान के लिए पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाला

- जानकारी होने के बाद आंखों के सामने से भाग गए

- पहले से कर रहे थे रेकी, साथ में दाखिल हुए जागरण संवाददाता, अहरौला (आजमगढ़): अहरौला थाना क्षेत्र में एक के बाद एक हो रही चोरी की घटना से लोग सहमे ही थे कि सोमवार को चोरों ने एक बार फिर पुलिस के सामने चुनौती पेश कर दी।

यूबीआइ की शाखा के अंदर से व्यापारी का झोला काटकर 85 हजार रुपये गायब कर दिया। पुलिस ने बदमाशों की पहचान के लिए बैंक में लगे सीसी कैमरे से फुटेज तो खंगाला, लेकिन कोई सफलता नहीं मिल सकी। व्यापारी ने पुलिस को तहरीर दे दी है, लेकिन मुकदमा दर्ज नहीं हो सका था।

मतलूबपुर कस्बे के रहने वाले प्रवीण कुमार व पंकज कुमार जायसवाल की अहरौला कस्बे में पारले बिस्किट व पतंजलि प्रोडक्ट की एजेंसी है। पंकज सोमवार को सुबह लगभग सवा 11 बजे कपड़े के झोले में चार लाख 42 हजार 700 रुपये लेकर जमा करने के लिए बैंक गए। वह काउंटर पर लाइन में खड़े थे। उसी दौरान मास्क लगाए तीन युवक बैंक के अंदर दाखिल होकर निगरानी कर रहे थे। उनमें से एक युवक लाइन में खड़े व्यापारी के बगल बने बेंच पर बैठ गया और ब्लेड से झोले को काटकर नोटों के बंडल निकालकर अपने दोनों साथियों को देता गया। इस बीच एक वृद्ध ने व्यापारी को बताया कि आपकी बैग फटी है। उसके बाद व्यापारी ने इधर-उधर नजर दौड़ाई तो पता चला कि उसके बगल के बेंच पर बैठे युवक के हाथ में नोटों की गड्डी है। व्यापारी ने शोर मचाया तो गेट पर तैनात पुलिसकर्मी आगे बढ़े और चोरों का पीछा किए, बदमाश बाइक से फुलवरिया बाजार की तरफ फरार हो गए। बैंक के अंदर हुई दिनदहाड़े इस घटना को लेकर के व्यापारी दहशत में हैं और बैंक की सुरक्षा पर सवाल उठा रहे हैं।

थानाध्यक्ष श्रीप्रकाश शुक्ला ने बताया बैंक की व्यवस्था पूरी तरह से खराब है। बड़े व्यापारियों को जो सहूलियत देनी चाहिए वह बैंक प्रबंधन नहीं दे पा रहे हैैं।

Edited By: Jagran