मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के केशवपुर गांव में हत्या कर फेंके गए अज्ञात व्यक्ति के शव की शिनाख्त पांच दिन बाद भी पुलिस कराने में असफल रही। शव की शिनाख्त न हो पाने से हत्या की घटना का खुलासा भी पुलिस नहीं कर सकी है। वहीं पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उक्त व्यक्ति की हत्या करने की पुष्टि हो गयी है।

जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के केशवपुर गांव स्थित नहर के समीप सरपत के जुट्टा से पुलिस ने तीन जुलाई को दिन में 45 वर्षीय व्यक्ति का निर्वस्त्र हालत में शव बरामद किया था। शव मिलने की खबर पाकर मौके पर डॉग स्क्वायड व फोरेंसिक टीम भी पहुंचकर छानबीन की थी। कुछ ही दूरी पर स्थित पेड़ के पास से पुलिस ने शराब की खाली बोतल, चाकू, कटा हुआ नींबू, अगरबत्ती, खून से सना लूंगी, गमछा बरामद किया था। छानबीन के बाद पुलिस ने उक्त व्यक्ति की गला कसने के बाद धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या करने की आशंका जतायी थी। सीओ सगड़ी शीतला प्रसाद का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी उक्त व्यक्ति की गला कसने व गला काटने से मौत होना दर्शाया गया है। लेखपाल मदन राय की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज छानबीन शुरू कर दी थी। पांच दिन बाद भी उक्त व्यक्ति के हत्या का खुलासा तो दूर उसके शव की भी पुलिस शिनाख्त नहीं करा सकी। एसपी ग्रामीण एनपी सिंह ने कहा कि शव की शिनाख्त कराने के लिए मृत व्यक्ति का फोटो सोशल मीडिया के अलावा डीसीआरबी से प्रदेश के सभी थानों पर भेज दिया गया है। शव की शिनाख्त होते ही पुलिस हत्या के तह तक पहुंच जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप