आजमगढ़ : गणेश उत्सव को लेकर मंदिर व पंडाल को भव्य रूप देकर तैयार किया जा रहा है। जहां शहर के लालडिग्गी स्थित बड़ा गणेश मंदिर को विद्युत झालरों से सजाया गया है वहीं गणेश का भव्य श्रृंगार किया गया है। दामोदर कटरा में गणेश उत्सव मनाने के लिए पंडाल बनाया गया है। इसकी तैयारी को बुधवार को अंतिम रूप दिया गया। 13 सितंबर को पूजन-अर्चन के साथ गणेश प्रतिमा का स्थापना किया जाएगा।

लालडिग्गी स्थित बड़ा गणेश मंदिर के महंत राजेश मिश्र ने बताया कि गणेश उत्सव 13 सितंबर से शुरू हो रहा है। सुबह आठ बजे गणेश भगवान की आरती होगी साथ ही प्रसाद वितरण भी होगा। उन्होंने बताया कि गणेश जी साक्षात पूर्ण ब्रह्मा स्वरूप हैं। माता पार्वती के वर्षों तपस्या के बाद बालक के रूप में अवतरित हुए जो अग्रपूज्य देव हुए। साधना हो या कारोबार या कोई नया कार्य सब में भगवान गणेश की पूजा सर्वप्रथम होती है। भगवान कृष्ण की तरह गणेश जी ने बाल लीला में कई असुरों का वध कर दिया। भगवान विष्णु, शिव व ब्रह्मा तथा मां लक्ष्मी, सरस्वती व मां पार्वती के सर्वाधिक प्रिय गणेश जी का महोत्सव बड़ा गणेश मंदिर में मनाया जाएगा। इस उत्सव में 15 से 21 सितंबर तक श्रीमद्भागवत पुराण ज्ञान यज्ञ सप्ताह का भी आयोजन किया गया है। यह कार्यक्रम तीन बजे से छह बजे तक मंदिर परिसर में किया जाएगा।

Posted By: Jagran