जासं, फूलपुर (आजमगढ़) : प्रख्यात शायर कैफी आजमी का जन्म शताब्दी समारोह सोमवार को उनके पैतृक गांव मेजवां स्थित फतेह मंजिल में धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान कैफी आजमी ग‌र्ल्स कालेज और चिकनकारी सेंटर की छात्राओं द्वारा विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। कैफी की नज्म 'प्यार का जश्न नई तरह मनाना होगा, गम किसी के दिल में सही गम को मिटाना होगा' सुन सभी की आंखें नम हो गई।

एसडीएम ललित कुमार व पूर्व विधायक श्यामबहादुर यादव, आशुतोष त्रिपाठी ने प्रगतिशील शायर कैफी आजमी की प्रतिमा पर दीप प्रज्ज्वलन व माल्यार्पण किया। एसडीएम ने कहा कि मेरा सौभाग्य है कि मुझे ऐसे महान तरक्की पसंद शायर के क्षेत्र में काम करने का मौका मिला। पूर्व विधायक श्यामबहादुर यादव ने कहा कि कैफी साहब अपनी शायरी के जरिए समाज को बहुत कुछ दिया है। सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी जब हम उनके बताए रास्ते पर चलेंगे। कैफी आजमी के सेवक गोपाल द्वारा फतेह मंजिल में कैफी आजमी द्वारा इस्तेमाल किए गए सामान की प्रदर्शनी लगाई गई। इस दौरान बच्चों को कैफी की नज्म लिखी रंग-बिरंगी पतंगों का वितरण किया गया। नगर पंचायत अध्यक्ष शिवप्रसाद जायसवाल की ओर से फूलपुर स्थित कैफी आजमी पायनियर स्कूल में शायर कैफी आजमी की याद में पतंग प्रतियोगिता आयोजित की गई। मेजवां सोसाइटी के प्रबंधक ने आभार प्रकट किया। संचालन जितेंद्र हरि पांडेय ने किया। इस मौके पर ¨प्रसिपल शेख समीना आजमी, संयोगिता जितेंद्र कुमार यादव, शाहआलम, अंशुमान जायसवाल, शालू जायसवाल आदि थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस