जागरण संवाददाता, रौनापारा (आजमगढ़): भारत की आजादी के अमृत महोत्सव आइसीएआर के 93वें स्थापना दिवस के अवसर पर कृषि विज्ञान केंद्र कोटवा की तरफ से ब्लाक हरैया के ग्राम पूराबालनरायन में एक दिवसीय किसान गोष्ठी हुई।

केंद्र के अध्यक्ष डा. केएम सिंह ने भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद की तरफ से किसान हित में चलाए जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी दी। आधुनिक कृषि यंत्रों से फसल अवशेषों का समुचित प्रबंधन करके फसल जलाने की समस्या से निजात पाने, महिलाओं के लिए पोषण वाटिका स्थापित करने एवं उसके फायदे बताए। वरिष्ठ विज्ञानी फसल सुरक्षा डा. रुद्र प्रताप सिंह ने धान, अरहर, उर्द आदि फसलों में फसल सुरक्षा उपाय व उद्यमिता विकास के लिए मधुमक्खी पालन व मशरूम उत्पादन तकनीकी के बारे में चर्चा की। वरिष्ठ विज्ञानी मृदा विज्ञान डा. रणधीर नायक ने मृदा स्वास्थ्य व उर्वरता व डा. अखिलेश कुमार यादव ने किसानों को फसलों की उन्नतिशील प्रजातियों के बारे जानकारी दी। गोष्ठी में 50 से अधिक किसान शामिल हुए।

Edited By: Jagran