-गंभीरपुर पुलिस ने कहा किसी भी पंडाल में नहीं बजेगा डीजे

-प्रतिमा विसर्जन यात्रा में दारू पीकर गए तो होगी कार्रवाई

जागरण टीम, आजमगढ़ : दुर्गा पूजा, विजयादशमी और प्रतिमा विसर्जन को लेकर पुलिस प्रशासन ने अभी से तैयारी तेज कर दी है।प्रतिबंधों का जाल बिछाना शुरू कर दिया है और साथ ही चेताया है कि इस जाल से बाहर जाकर कुछ किया तो काल हो सकता है।

लालगंज : तहसील के सभागार में पूर्णिमा के दिन लगने वाले मेले को लेकर तहसीलदार उमाशंकर त्रिपाठी की अध्यक्षता में हुई बैठक में क्षेत्राधिकारी मनोज रघुवंशी ने निर्देशित किया कि पंडाल लगाकर सड़क का अतिक्रमण न हो।विसर्जन के समय अश्लील नृत्य व अश्लील गाने किसी भी शर्त पर नहीं बजेंगे।पंडालों से लेकर मूर्ति विसर्जन तक मदिरा का सेवन किसी भी दशा में प्रतिबंधित रहेगा।अगर किसी ने किया तो कार्रवाई तय है।सफाई व्यवस्था के लिए अधिशासी अधिकारी राम बचन यादव को निर्देशित किया गया।विद्युत विभाग के जेई हेमंत यादव ने कहा कि मेले में रोस्टिग की विद्युत कटौती हम नहीं रोक पाएंगे। नायब तहसीलदार पंकज शाही, नपं चेयरमैन विजय सोनकर, कोतवाल मंजय सिंह, रजनीश जायसवाल, नंदन जायसवाल, रजनीकांत त्रिपाठी, सुनील सिंह, कृष्णकुमार मोदनवाल, रामचरन प्रजापति, पुलिस चौकी प्रभारी अनिल कुमार सिंह आदि उपस्थित रहे।

गोसाईं की बाजार: दुर्गा पूजा समितियों के पदाधिकारियों की बैठक पुलिस चौकी गोसाईं की बाजार प्रांगण में हुई, जिसमें निर्देश गया कि किसी भी पंडाल में डीजे नहीं बजेगा। अगर कोई उदंडता करते हुए पाया गया तो उसकी खैर नहीं होगी। रमेश राय, दिनेश गुप्ता, बनारसी लाल, सुभाष सिंह, शेरू राय, अजय राय, मनोज राय, गोपाल राय आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran