जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : शहर कोतवाली क्षेत्र के बद्दोपुर गांव में स्थित देव प्रतिमा को बुधवार की रात में शरारती तत्वों ने उखाड़ कर अपने घर में छिपा दिया। इस बात को लेकर गुरुवार की सुबह गांव में तनाव व्याप्त हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घर के अंदर छिपाए गए देव प्रतिमा को बरामद कर पुन: उसी स्थान पर स्थापित करा दिया। पुलिस ने इस मामले में एक युवक को हिरासत में ले लिया है। चौकीदार की तहरीर पर आठ लोगों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

बद्दोपुर गांव के दलित बस्ती के समीप लगभग पांच वर्ष पूर्व एक देव प्रतिमा स्थापित की गई थी। गांव के लोग आकर पूजन अर्चन करते थे। बुधवार की रात को बस्ती के लोगों ने मिलकर स्थापित की गई प्रतिमा को उखाड़ दिया और उसे घर में ले जाकर छिपा दिया। दूसरे दिन गुरुवार की सुबह इस बात की जानकारी जब लोगों को हुई तो धीरे-धीरे कर यह बात पूरे क्षेत्र में फैल गई। कुछ देर बाद मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। प्रतिमा उखाड़ कर गायब कर दिए जाने की घटना को लेकर देखते ही देखते गांव में तनाव व्याप्त हो गया। खबर पाकर ¨हदू संगठनों के पदाधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। सुबह दस बजे किसी ने फोन कर पुलिस को सूचना दे दी। सूचना मिलते ही एसपी अजय साहनी, सीओ सिटी सच्चिदानन्द, शहर कोतवाल के साथ ही सिधारी व कंधरापुर थानाध्यक्ष भी पुलिस के साथ मौके पर पहुंच गए। छानबीन के बाद पुलिस ने गांव निवासी कुद्दन पुत्र विपत राम के घर के अंदर छिपाकर रखा प्रतिमा को बरामद कर लिया। ¨हदू संगठनों के आक्रोश जताने के बाद पुलिस ने पुन: उसी स्थान पर प्रतिमा को स्थापित करा दिया। आक्रोशित लोगों को पुलिस ने किसी तरह से समझा बुझाकर शांत करा दिया। इस मामले में पुलिस ने एक युवक को हिरासत में ले लिया। शहर कोतवाल का कहना है कि हिरासत में लिए गए युवक को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया है। गांव के चौकीदार सुरेंद्र पुत्र दीपचंद की तहरीर पर पुलिस ने आठ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। तनाव को देखते हुए गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप