जागरण संवाददाता, आजमगढ़: 22वें कारगिल विजय दिवस पर सोमवार को जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास कार्यालय परिसर में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। इस दौरान जिलाधिकारी राजेश कुमार और भूतपूर्व सैनिकों ने देश की आन-बान और शान की रक्षा करते हुए कारगिल पहाड़ी पर विजय पताका लहराने के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर करने वाले कारगिल योद्धाओं को श्रद्धांजलि अर्पित की। बलिदानी सैनिकों की याद में पौधारोपण भी किया गया।

जिलाधिकारी ने कारगिल युद्ध में भारतीय सैनिकों के अदम्य साहस एवं बलिदान को याद करते हुए उनके पराक्रम की सराहना की।जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल(सेवानिवृत्त) बीरेंद्र सिंह ने भारतीय सैनिकों की वीरता,कर्तव्यनिष्ठा, शौर्य, साहस व बलिदानों की प्रशंसा की। कैप्टन नंदलाल यादव (सेवानिवृत्त) ने कारगिल युद्ध में हिस्सा लेने वालों को सम्मानित किया। भारत सरकार व उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बलिदानियों की पत्नी एवं आश्रितों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। इस मौके पर भूतपूर्व सैनिक, एनसीसी कैडेट व उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान थे।

Edited By: Jagran