जासं, फूलपुर (अजमगढ़) : गांव की समस्याओं, विकास से जुड़ी योजनाओं व मासिक बैठक के लिए पंचायत भवन बनवाया जाता है लेकिन यहां पंचायत भवन खंडहर में तब्दील है। इस कारण पंचायत भवन पर ग्राम सभा की बैठकें नहीं हो पाती हैं। फूलपुर ब्लाक क्षेत्र के सुदनीपुर गांव में वर्ष पूर्व लाखों रुपयों की लागत से दो कमरे, एक हाल, बरामदा, हैंडपंप तथा चहारदीवारीयुक्त पंचायत भवन बनवाया गया था।

जिसमें उद्देश्य यह था कि गांव की विकास योजनाएं यहीं पर बैठक कर तैयार की जाएंगी। लेकिन यहां स्थिति ठीक विपरीत है। ग्राम पंचायत की उदासीनता के चलते पंचायत घर का रख-रखाव प्रभावित हो गया। साफ-सफाई और देखरेख के अभाव में पंचायत घर में कूड़ा-करकट का साम्राज्य है। पंचायत भवन का इस्तेमाल न होने से खिड़की, दरवाजे गायब हो चुके हैं। चहारदीवारी जगह-जगह टूटी हुई है। साफ सफाई न होने से बड़ी-बड़ी झाड़ियां उग आईं है। ग्राम प्रधान ने बताया कि जिम्मेदार की उदासीनता के चलते भवन जर्जर है। किसी के न रहने से पंचायत भवन की खिड़की व दरवाजे गायब हो गए। इस संबंध में एडीओ पंचायत फूलपुर ने बताया कि मरम्मत योग्य पंचायत भवनों को सही कराने के लिए उच्च्चाधिकारियों को लिखित रूप में अवगत करा दिया गया है। जल्द ही समस्या समाप्त हो जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस