जासं, आजमगढ़ : यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा में बुधवार की सुबह प्रथम पाली में हाईस्कूल की सिलाई व इंटरमीडिएट की अरबी, पाली व फारसी की परीक्षा हुई, जबकि शाम की पाली में हाईस्कूल की वाणिज्य व इंटरमीडिएट की अंग्रेजी विषय की परीक्षा हुई। दोनों पालियों में काफी संख्या में परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। परीक्षा केंद्रों पर जो परीक्षार्थी नकल के भरोसे नहीं थे वह बेखौफ होकर परीक्षा दे रहे थे।

हाईस्कूल की सुबह की पाली में सिलाई विषय के 112 छात्र पंजीकृत थे, जिसमें 100 परीक्षाíथयों ने परीक्षा दी और 12 ने छोड़ दी। वहीं इंटरमीडिएट में पाली व फारसी में 25 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं, जिसमें 21 छात्र उपस्थित व चार छात्र अनुपस्थित रहे। वहीं शाम की द्वितीय पाली में हाईस्कूल की वाणिज्य विषय में पंजीकृत 143 छात्रों में से 13 ने परीक्षा छोड़ दी। इंटरमीडिएट की अंग्रेजी विषय में पंजीकृत 72 हजार 226 परीक्षाíथयों में से 65 हजार 187 ने परीक्षा दी और 739 ने परीक्षा छोड़ दी। वहीं सचल दल की टीम परीक्षा केंद्रों का जायजा लेती रही।

-

कंप्यूटर ऑपरेटर को हटाने का निर्देश

उपजिलाधिकारी पंकज कुमार श्रीवास्तव ने द्वितीय पाली में अंग्रेजी विषय की परीक्षा के दौरान क्षेत्र के आदर्श इंटर कालेज पल्हना और बाबू नागेश्वर राय इंटर कॉलेज का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान बाबू नागेश्वर में कंप्यूटर ऑपरेटर द्वारा सीसीटीवी ठीक से ऑपरेट न करने पर एसडीएम ने उन्हें हटाकर दूसरे को लगाने के निर्देश दिए।

-

नकल के आरोप में छात्रा रिस्टीकेट

द्वितीय पाली में हाईस्कूल की वाणिज्य व इंटरमीडिएट की अंग्रेजी विषय की परीक्षा हुई। सचल दल की टीम ने बलिराम बेचू इंटर कालेज कौतुकपुर, एमआइसी इंटर कालेज सेठवल, श्री बालवर ग्रामीण इंटर कालेज करनपुर, श्री कृष्ण इंटर कालेज बहाउददीनपुर व मां बच्ची सती इंटर कालेज हसनपुर सहित कुल 20 परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान श्री कृष्ण इंटर कालेज बहाउद्दीनपुर परीक्षा केंद्र पर अंग्रेजी विषय की छात्रा के पास नकल सामग्री पाई गई। पूछताछ के बाद उसे रेस्टीकेट कर दिया।

-

डीआइओएस ने दी अंतिम चेतावनी

जासं, आजमगढ़ : बोर्ड परीक्षा में लगाए गए कक्ष निरीक्षकों को प्रधानाचार्य द्वारा कार्यमुक्त न करने एवं अध्यापक द्वारा कक्ष निरीक्षक की ड्यूटी न करने के कारण उन्हें नोटिस भेजा गया था। बावजूद इसके ज्यादातर अध्यापकों द्वारा कक्ष निरीक्षक की ड्यूटी नहीं की जा रही है या तो प्रधानाचार्य द्वारा कार्यमुक्त नहीं किया गया है। जिला विद्यालय निरीक्षक डा. वीके शर्मा ने समस्त अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य एवं शिक्षकों को अंतिम चेतावनी दी है। उन्होंने निर्देशित किया है कि वह तत्काल अपने परीक्षा केंद्र पर कार्यभार ग्रहण करें। यदि ऐसा नहीं किया गया तो संबंधित प्रधानाचार्य एवं अध्यापक को दोषी मानते हुए अनुपस्थित परीक्षा अवधियों का वेतन काटा जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस