संवाद सूत्र,अछल्दा(औरैया) : विकास खंड क्षेत्र के गांव ग्वारी के सिद्धपीठ मनकामेश्वर मन्दिर पर श्रीमद्भागवत कथा का आयोजन किया गया है। शुक्रवार को भव्य कलश यात्रा के साथ इसका शुभारंभ हुआ। यात्रा में महिलाएं पीले वस्त्र धारण कर सिर पर कलश रखकर चल रहीं थी। परीक्षित पुराण को सिर पर रखकर आगे-आगे चल रहे थे। युवा श्रद्धालु बैंडबाजों की भक्ति धुनों पर थिरकते नजर आए।

ग्राम ग्वारी में सभी ग्रामीणों के सहयोग से श्रीमद भागवत कथा का शुभारंभ हुआ। इसमें महिलाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। वह पंक्तिबद्ध होकर सिर पर कलश रखकर शामिल हुईं। परीक्षित भागवत पुराण को लेकर चल रहे थे। मंदिर परिसर से शुरू हुई यात्रा तेजपुर, नेविलगंज, पुराना अछल्दा होते हुए निचली गंग नहर पर पहुंची।यहां से श्रद्धालु कलशों में जल लेकर वापस कथा स्थल मन कामेश्वर मंदिर पहुंचे। यात्रा का कस्बा में जगह-जगह पुष्प वर्षा के साथ स्वागत किया गया। युवा बैंडबाजों की भक्ति धुनों पर झूमते नजर आए। आचार्य पं. शिवपाल सिंह ने वैदिक रीति रिवाज से मंत्रोच्चारण के साथ गणेश पूजन कराया। महिलाओं ने इस दौरान जलाभिषेक के साथ कृष्ण लीलाओं का गायन किया। कलश स्थापना के बाद परीक्षित गीता देवी, हरीश श्रीवास्तव व अन्य से विशेष पूजा अर्चना कराई गई। भगवताचार्य शिवकांत अवस्थी ने कथा का वर्णन किया। पंकज श्रीवास्तव, रजत , सुंदरम भोले, हर्षित ,अंकुर, रचित आदि व्यवस्था में जुटे नजर आए।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप