Move to Jagran APP

UP Police : दबिश देने गए इंस्पेक्टर और आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा, महिला ने बताई पूरी आपबीती

Uttarpradesh Police वहीं अक्टूबर में दर्ज किए गए मामले की जांच कर रहे दारोगा ने मामले में धाराएं कम कर दी थी। वहीं इसको लेकर मुकदमा दर्ज कराने वाली महिला ने चौकी प्रभारी पर गंभीर आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। निरीक्षक शशि भूषण मिश्र ने बताया कि लगाए गए आरोप निराधार हैं। पुलिस दबिश देने गई थी।

By Jagran News Edited By: Mohammed Ammar Thu, 02 May 2024 06:56 PM (IST)
UP Police : दबिश देने गए इंस्पेक्टर और आठ पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा, महिला ने बताई पूरी आपबीती

जागरण संवाददाता, ओरैया : 16 माह पहले एक मामले में दबिश देने गए इंस्पेक्र व आठ पुलिस कर्मी पर कोर्ट के आदेश पर महिला ने छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कराया है। आरोप है कि पुलिस ने घर में घुसकर गाली-गलौज व अभद्रता की थी। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

2022 का है मामला

दिबियापुर के एक मुहल्ला निवासी महिला ने पड़ोसी पर अक्टूबर 2022 में मारपीट व छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कराया था। मामले में तत्कालीन थाना प्रभारी निरीक्षक शशिभूषण मिश्र व आठ पुलिस कर्मियों के साथ आरोपित के घर 22 दिसंबर 2022 को दबिश देने पहुंचे। आरोपित की मां का आरोप है कि पुलिस दरवाजे में लात मारकर घर के अंदर घुस थी। वहां मौजूद लोगों के साथ मारपीट व अभद्रता की।

पुलिस ने आरोपों को नकारा 

वहीं अक्टूबर में दर्ज किए गए मामले की जांच कर रहे दारोगा ने मामले में धाराएं कम कर दी थी। इसको लेकर मुकदमा दर्ज कराने वाली महिला ने चौकी प्रभारी पर गंभीर आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। निरीक्षक शशि भूषण मिश्र ने बताया कि लगाए गए आरोप निराधार हैं। पुलिस दबिश देने गई थी।

वहीं थाना प्रभारी निरीक्षक मुकेश बाबू चौहान ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज किया गया है। जांच के दौरान लगाए गए आरोपों के सबूत नहीं मिले हैं। महिला के बेटे के खिलाफ दर्ज मामले में पुलिस उसके घर गई थी।