जागरण संवाददाता, औरैया: जिला संयुक्त चिकित्सालय परिसर में बंद पड़े क्षयरोग चिकित्सालय में आरटीपीसीआर लैब तैयार की जानी है। विशेषज्ञों की सर्वे रिपोर्ट के बाद लैब को लेकर कवायद जिले में तेज हो गई है। सब कुछ समय पर हो सके, इसके लिए कृषि राज्यमंत्री लाखन सिंह राजपूत ने क्षेत्रीय विधायक निधि से पावर बैंक के लिए 11 लाख रुपये दिया है। रविवार को जिलाधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने दिबियापुर, इटावा, कन्नौज के सांसदों व राज्यसभा सदस्य को पत्र लिखते हुए स्वास्थ्य सुविधाओं के बाबत उपकरणों की खरीद में आर्थिक सहयोग का जिक्र किया था। इस क्रम में जनप्रतिनिधियों ने क्षेत्रीय विकास निधि से हर संभव मदद का आश्वासन दिया है।

कृषि राज्यमंत्री व दिबियापुर विधायक लाखन सिंह राजपूत ने क्षेत्रीय विकास निधि से 11 लाख रुपये का आर्थिक सहयोग कोविड मरीजों के लिए किया है। इस निधि से आरटीपीसीआर लैब को लेकर पावर बैंक से जुड़े उपकरण जुटाए जाएंगे। प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि निधि से 125 केवीए जनरेटर खरीद की जाएगी। एसडीएम सदर रमेश चंद्र यादव को निधि से की जाने वाली मदद का पत्र सोमवार को सौंपा। प्रशासन के अनुसार आरटीपीसीआर की लैब व कोविड फैसिलिटी का निर्माण कराया जाना है। पावर बैक पर्याप्त नहीं है। 125 केवीए जनरेटर की अति आवश्यकता बताई गई थी। जल्द ही निधि से मिली रकम से जनरेटर की खरीद की जाएगी। इसके अलावा लैब की दिशा में कंस्ट्रक्शन का कार्य भी शीघ्र शुरू कराया जाएगा। जिलाधिकारी सुनील कुमार वर्मा का कहना है कि कोविड के प्रति जारी जंग को हर हाल में जीता जाएगा।

Edited By: Jagran