जागरण संवाददाता, औरैया: अयाना थाना ग्राम फरिहा में मंगलवार देर शाम नहाने गई चार किशोरियां यमुना नदी में सेल्फी लेते समय डूब गई थीं। उनके साथ नहाने गई एक किशोरी तेज बहाव के कारण किसी तरह बाहर आ गई थी। इसके बाद हादसे की जानकारी उसने ग्रामीणों व स्वजन को दी थी। आनन-फानन गोताखोरों व मछुआरों को बुलाया गया और किशोरियों की तलाश शुरू कराई गई। मंगलवार रात रात आठ बजे तक चले सर्च आपरेशन में तीन किशोरी के शव मिल गए थे। मौसम बिगड़ने की वजह से आपरेशन रोक दिया गया था। बुधवार तड़के चौथी किशोरी की तलाश शुरू कराई गई। कड़ी मशक्कत के बाद उसका शव घटनास्थल से करीब ढाई किमी दूर नदी में मिला।

अयाना थाना क्षेत्र के फरिहा गांव में सुरेश कुमार के पुत्र दीपक का सोमवार को तिलक था। इसमें उनके रिश्तेदार भी शामिल होने आए थे। मंगलवार शाम करीब साढ़े पांच बजे इटावा जिले की प्रियंका पुत्री रमेश, अहेरीपुर गांव निवासी चचेरी बहन कीर्ति पुत्री अशोक कुमार, आकांक्षा पुत्री सुशील कुमार, कल्पना पुत्री स्व. रमेशचंद्र सहित फफूंद कस्बे के मोहल्ला भराव निवासी तनु पुत्री जितेंद्र राठौर गांव किनारे यमुना नदी में नहाने गई हुई थी। तेज बहाव होने के कारण कीर्ति, आकांक्षा, कल्पना व तनु नदी में डूब गई, जबकि प्रियंका तेज बहाव को देख नदी किनारे आ गई। घटना की जानकारी प्रियंका ने रोते-रोते गांव में जाकर स्वजन को बताई। उसने बताया कि नहाते हुए सेल्फी लेते वक्त कीर्ति, आकांक्षा, कल्पना व तनु डूब गए। घटना की जानकारी होने पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई। आनन- फानन गोताखोर, मछुआरों को नदी में उनकी तलाश के लिए भेजा गया। मंगलवार रात तक तीन किशोरी कीर्ति, आकांक्षा व तनु का शव नदी से निकाल लिया गया था। मौसम बिगड़ जाने की वजह से सर्च आपरेशन रोका गया था। बुधवार सुबह करीब चार बजे आपरेशन शुरू किया गया। पुलिस के अनुसार चौथी किशोरी कल्पना का शव घटनास्थल से ढाई किमी की दूरी पर मिला। स्वजन का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं राजस्व विभाग से लाल पाल व लेखपाल गिरजेंद्र पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे थे।

-------

बहन की याद में भाई बदहवास, मां बेसुध

किशोरियों में शामिल 14 वर्षीय तनु की मौत की जानकारी होते ही पिता जितेंद्र, मां सुधा व भाई बिलख-बिलख कर रोने लगे। मंगलवार सुबह शव गांव पहुंचा। तनु कस्बे के राधाकृष्ण इंटर कालेज कटरा में हाईस्कूल की छात्रा थी। अपने तीन भाइयों 18 वर्षीय अनुज, 14 वर्षीय आशीष व 10 वर्षीय देव के बीच इकलौती बहन थी।

------- मृतक के स्वजन को गीता शाक्य ने सांत्वना दी

यमुना नदी में डूबी किशोरियों की मौत पर उनके स्वजन को राज्यसभा सदस्य गीता शाक्य ने ढांढस बंधाते हुए सांत्वना दी। उनके साथ भाजपा के कार्यकर्ता व पदाधिकारी शामिल रहे। वहीं पूरे गांव में सन्नाटा रहा। पूर्व ब्लाक प्रमुख राजकुमार दुबे, उदयन सिंह सेंगर आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran