जागरण संवाददाता, औरैया : अयाना थाना क्षेत्र के ग्राम नवादा ज्वाला प्रसाद में अधेड़ ने खुद के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली। इसके बाद वह घर के बाहर निकला आया। अधेड़ को आग से लिपटा देख ग्रामीणों ने आग बुझाई। आनन-फानन उसे सीएचसी में भर्ती कराया। यहां पर डाक्टरों ने नाजुक हालत देखते हुए उसे सैफई रेफर कर दिया। सैफई में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

क्षेत्र के ग्राम ज्वाला प्रसाद निवासी दीवान ¨सह पुत्र स्व. श्यामलाल अपने घर में अकेले रहते हैं। ग्रामीणों ने बताया कि सोमवार शाम उनकी किसी के साथ कहासुनी हुई। देर रात दीवान ¨सह ने कमरे में जाकर अपने ऊपर मिट्टी का तेल डाल लिया। इसके बाद दरवाजा खोलकर घर के बाहर आ गए। जब ग्रामीणों ने दीवान ¨सह को आग के हवाले देखा तो कंबल डालकर उनकी आग बुझाई। आग से वह करीब 80 फीसद झुलस गए थे। परिजन अधेड़ को आनन-फानन सीएचसी ले गए। यहां पर डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें सैफई रेफर कर दिया। मंगलवार की सुबह इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि दीवान ¨सह शराब का लती था और आए दिन ग्रामीणों से झगड़ता रहता था। पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस संबंध में थानाध्यक्ष सोमेंद्र ¨सह ने बताया कि अभी तक तहरीर नहीं दी गई है। अगर तहरीर मिलती है तो मामले की जांच की जाएगी।

Posted By: Jagran