जागरण संवाददाता, औरैया: कोविड-19 के संक्रमण से लोगों को बचाने की मुहिम जिले में युद्ध स्तर पर है। सोमवार को 'मेरा टीका, मेरा अधिकारी' मुहिम के तहत लोगों को जागरूक करते हुए 45 केंद्रों पर वैक्सीन लगाई गईं। एक दिन पूर्व उपलब्ध कराई गई 11 हजार वैक्सीन के चलते स्वास्थ्य केंद्रों पर भीड़ ज्यादा रही। लोगों में गजब सा उत्साह देखने को मिला। अभी तक 10 केंद्रों पर ही यह कवायद की जा रही थी। जिस वजह से दिक्कतें बनी थी। टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्य विभाग व स्थानीय प्रशासन बेहद गंभीर हैं।

चिकित्साधिकारियों ने वैक्सीन की डोज में दूसरी खुराक पर ज्यादा जोर दिया है। इसके अलावा जिन्होंने पहले रजिस्ट्रेशन कराया था, उन्हें पहली डोज लगाने को लेकर प्राथमिकता दी जा रही है।

जिले में एक जुलाई से 5000 वैक्सीन लगाए जाने का लक्ष्य निर्धारित है। शुरुआती दौर में वैक्सीन की कमी के चलते एकदम से दिक्कतें बढ़ी थी। स्वास्थ्य केंद्रों पर लगने वाले कैंप में लोग पहुंच रहे थे लेकिन उन्हें नई तिथि में वैक्सीन लगाने की बात कहकर स्वास्थ्य कर्मी लौटा रहे थे। इस समस्या को खत्म किया गया है। 50 शैय्या संयुक्त जिला अस्पताल, सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर लगाए जाने वाले कैंप में सावन के पहले दिन सोमवार को भीड़ ज्यादा रही। 18 वर्ष व इससे अधिक उम्र वाले लोगों को वैक्सीन लगाई गई। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि रविवार को 11 हजार वैक्सीन उपलब्ध हुई थी। सौ शैय्या जिला अस्पताल, सीएचसी अछल्दा, 50 शैय्या संयुक्त जिला चिकित्सालय समेत सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर वैक्सीन को लेकर कैंप लगाए जा रहे हैं।

Edited By: Jagran