जागरण संवाददाता, औरैया: सदर कोतवाली के मंगलाकाली चौराहा के पास रविवार सुबह एक ऑटो चालक का शव संदिग्ध परिस्थितियों में मिलने से सनसनी फैल गई। चालक के गले में प्लास्टिक रस्सी का फंदा था। राहगीरों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक की शिनाख्त कराते हुए स्वजन के बारे में जानकारी की। घटना का पता लगने पर स्वजन पहुंचे। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत के कारणों की पुष्टि हो सकेगी। उधर, मृतक की पत्नी व बच्चों का रो-रो कर हाल बेहाल रहा।

शहर के मंगलाकाली चौराहा पर रविवार सुबह करीब सात बजे कुछ ऑटो रिक्शा खड़े थे। ऑटो चालक सवारियों को बुलाने में व्यस्त थे। इसी दौरान उन्हें एक ऑटो चालक का शव मिलने का शोर सुनाई दिया। इस पर चौराहा पर चालकों व लोगों की भीड़ जुट गई। प्रत्यक्षदर्शियों व घटनास्थल पर पहुंची पुलिस के अनुसार चालक की गर्दन प्लास्टिक की रस्सी से कसी थी। रस्सी ऑटो चालक की सीट के बगल लगे एंगल से लगी हुई थी। कोतवाली सदर व देवकली चौकी की पुलिस ने घटना की पड़ताल की। देवकली चौकी इंचार्ज सुधीर भारद्वाज ने बताया कि मृतक की शिनाख्त रोहित पुत्र धनीराम निवासी दयालपुर के रूप में की गई है। स्वजन के बारे में पता लगने पर उन्हें मोबाइल फोन से सूचना दी गई। स्वजन ने बताया कि रोहित किराये पर ऑटो चलाता था। सुबह वह घर से ऑटो लेकर निकला था। स्वजन ने हत्या कर शव को फंदे से कसने का आरोप लगाया है। पुलिस सभी बिदुओं पर जांच कर रही है। सुधीर भरद्वाज ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से मौत के कारणों का पता लग सकेगा। फिलहाल, स्वजन द्वारा लगाए गए आरोप को ध्यान में रखते हुए जांच की जा रही है। पूरे घटनाक्रम को लेकर सीओ सदर सुरेंद्र नाथ का कहना है कि स्वजन ने हत्या का आरोप लगाया है। जांच की जा रही है।

Edited By: Jagran