मंडी धनौरा: उपजिलाधिकारी मांगेराम चौहान ने कहा कि ग्रामीण अंचलों में भी प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। बस उन्हें सही प्लेटफार्म एवं दिशा की आवश्यकता है। स्कूल, कालेज इसके लिए एक अच्छा माध्यम है, जहां पर युवा अपनी प्रतिभाओं को प्रदर्शित कर सकते हैं।

भागीरथी देवी महाविद्यालय में आयोजित वार्षिक क्रीड़ा प्रतियोगिता का उप जिलाधिकारी मांगेराम चौहान ने फीता काट कर शुभारंभ किया । उन्होंने कहा कि कोई भी मंजिल पाना मुश्किल नहीं है, अपितु उसके लिए दृढ़ संकल्प एवं सतत प्रयास की आवश्यकता है। प्रतियोगिता में बालिका वर्ग सौ मीटर दौड़ में आंचल प्रथम, हरप्रीत द्वितीय एवं अंजलि को तृतीय स्थान मिला। वहीं भाला फेंक में नमन अग्रवाल प्रथम, आज सैफी द्वितीय जबकि पवन कुमार को तृतीय स्थान मिला। दो सौ मीटर दौड़ में विशम्भर प्रथम, सौरभ द्वितीय वहीं नाजिर तृतीय स्थान पर रहे। जबकि भाला फेंक में जसप्रीत सिंह प्रथम, कोमल द्वितीय स्थान पर रहे। डिस्कस थ्रोमें छात्र वर्ग में जसप्रीत जबकि छात्रा वर्ग में आंचल ने प्रथम व कोमल ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। वहीं 15 सौ मीटर दौड़ में हसीन ने प्रथम जबकि प्रशांत व राजीव क्रमश: द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहे। मेंहदी में अंजली ने मारी बाजी

मंडी धनौरा: अमर सिंह मैमोरियल पीजी कालेज के प्रबंधक अशोक कुमार ने कहा कि प्रतियोगिताओं के आयोजन से आपस में प्रतिस्पर्धा बढ़ती है तथा उनकी

कला का विकास होता है। यहां मेंहदी प्रतियोगिता में प्रथम स्थान अंजली सैनी, जबकि द्वितीय पर मोनी वहीं तृतीय पुरस्कार दीपा सैनी को दिया गया। प्राचार्या ने कहा कि मेंहदी प्रेम, सौंदर्य और खुशी का प्रतीक है। छात्राओं द्वारा प्रदर्शित कला प्रशंसनीय है। विजेताओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप