अमरोहा: देर तक मोबाइल फोन पर हो रही बातचीत व चैङ्क्षटग रिश्तों में दरार डाल रही है। एक ऐसा ही मामला सोमवार को प्रोबेशन अधिकारी के सामने आया। पति-पत्नी ने एक-दूसरे पर तरह-तरह के आरोप लगाए। पत्नी संग रहने को तैयार है लेकिन, पति उसे किसी भी कीमत पर साथ रखना नहीं चाहता है। उसका कहना है कि वह फोन पर किसी से बात करती है। उसका ऑडियो मेरे पास है। कभी भी कत्ल करा सकती है। इसलिए मैं उसे किसी भी कीमत पर साथ नहीं रखूंगा, चाहे मुझे जेल में डाल दो। 

सैदनगली थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली महिला ने अपने पति व ससुरालियों पर आरोप लगाया कि वह दहेज में पांच लाख रुपये की मांग करते हैं और उसके साथ मारपीट करते हैं। पीडि़ता के शिकायती पत्र पर संज्ञान लेते हुए प्रोबेशन अधिकारी ने लड़के पक्ष को तलब किया। पिता के साथ उसका पति भी विकास भवन स्थित कार्यालय पहुंचा। पति ने दहेज मांगने के आरोप को झूठा बताते हुए कहा कि वह छह हजार रुपये प्रतिमाह कमाता है। आरोप लगाते हुए कहा- मेरी पत्नी ठीक नहीं है। वह घंटों तक मोबाइल पर किसी से बातचीत करती है। उसका ऑडियो मेरे पास है। यही सबसे बड़ा सुबूत होगा। कहा कि 

एक बार पंचों का फैसला मानकर वह काफी पछता रहा है। आगे बोला कि जिस दिन से पत्नी घर में आई है, जीना हराम कर दिया है। टेंशन में दिन गुजरता है। वह एक अन्य महिला के घर पर कई-कई दिन ठहरती है, जबकि वह न रिश्तेदार है और न ही दूर तक उससे कोई नाता है। शंका जताई कि पत्नी उसका कत्ल भी करा सकती है। जब अधिकारियों ने उसे समझाने का प्रयास किया तो बोला कि आप चाहे मुझे जेल भिजवा दो लेकिन पत्नी को किसी भी सूरत में साथ नहीं रखेंगे। प्रोबेशन अधिकारी के काफी समझाने के बाद भी वह मानने को तैयार नहीं हुआ। 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस