गजरौला : नेशनल हाईवे किनारे संत निरंकारी भवन के पास बिना नक्शा पास कराए मकानों का निर्माण कराना संबंधित को महंगा पड़ा गया। मुरादाबाद विकास प्राधिकरण की टीम ने छापेमारी कर इन चार मकानों पर सील लगा दी। हैरानी की बात यह है कि एमडीए द्वारा सील लगाने के बाद भी निर्माण कार्य जारी रहा।

गजरौला में हाईवे किनारे स्थित संत निरंकारी भवन के पास कई मकानों का निर्माण कराया जा रहा था। मुरादाबाद विकास प्राधिकरण के सचल दस्ते के जोन प्रभारी भूदत्त शर्मा, अधिशासी अभियंता रजनीश त्यागी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। यहां देखा कि बिना नक्शा पास कराये ही मकानों का निर्माण कराया जा रहा है। जांच पड़ताल में सचल दल को कोई नक्शा नहीं दिखाया जा सका। टीम ने वहां बनाये जा रहे धर्मपाल ¨सह, खुशी, विजय व मोहम्मद अनवर के निर्माणाधीन मकान पर सील लगा दी।

खास बात यह है कि टीम के जाने के बाद भी दो मकानों में निर्माण कार्य जारी रहा। बाहर से एमडीए की सील लगी हुई है। अंदर निर्माण कार्य होता देखा गया। मुरादाबाद विकास प्राधिकरण के जोन प्रभारी भूदत्त शर्मा ने बताया कि बिना नक्शा पास कराये अवैध रूप से बनाये जा रहे चार मकानों पर सील लगाई गई है एवं नगर योजना एवं विकास अधिनियम की धारा-1973 के तहत चारों मकान स्वामियों के खिलाफ थाने में तहरीर दी गई है। हालांकि अभी पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया है।

Posted By: Jagran