हसनपुर : तहसील क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय पतेई भूड़ में शैक्षिक उन्नयन गोष्ठी में बतौर मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष सरिता चौधरी के पति एवं भाजपा नेता चौधरी भूपेंद्र ¨सह ने कहा शिक्षा के बिना कोई भी समाज तरक्की नहीं कर सकता। शिक्षा से ही विकास के द्वार खुलते हैं।

कहा यह विद्यालय ग्राम प्रधान वीर ¨सह के प्रयास से वास्तव में जनपद का मॉडल स्कूल बन गया है। ग्रामीणों की मांग पर गांव में 15 लाख रुपये की लागत से 200 मीटर सीसी रोड बनवाने की घोषणा की। प्रधान वीर ¨सह द्वारा कराए गए स्कूल के सुंदरीकरण से प्रेरित होकर जनपद का कोई एक स्कूल गोद लेने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि 70 लाख की लागत से तिगरी मेला स्थल पर लगी मूर्तियों का सुंदरीकरण मेला गेट तथा स्नानघर बनवाए जाएंगे। 20 लाख की लागत से तिगरी रोड से बाईपास बनाया जाएगा।

विशिष्ट अतिथि के रूप में बलिया के उपजिलाधिकारी गंभीर ¨सह ने कहा कि क्रांति से ही देश को विकसित किया जा सकता है। प्रधान गांव में अपने प्रयास से परिवर्तन पाठशाला खोलें, जिनमें गांव की शिक्षित बेटियों को निरक्षर लोगों को पढ़ाने के लिए लगाया जाए। उन्होंने अपने वेतन से विद्यालय में एक स्मार्ट टीवी लगाने की घोषणा की। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी गौतम प्रसाद ने अपने गोद लिए मुक्त विद्यालय में छात्रों की संख्या को देखते हुए एक शिक्षक तथा 1 अनुदेशक को संबद्ध करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि सरकार स्कूलों का कायाकल्प करने का बीड़ा उठा रही है शिक्षक शिक्षण कार्य करके शिक्षा का कायाकल्प करें।

इस मौके पर मुख्य रूप से राजस्थान के भरतपुर से उप जिलाधिकारी संजय शर्मा, रामकिशोर ¨सह चौहान, जिला पंचायत सदस्य ¨पटू भाटी, रवि यादव, पूर्व जिला पंचायत सदस्य विपिन चौधरी, विनय कुमार अग्रवाल, प्रदीप कुमार अग्रवाल, मनवीर चिकारा, धर्मेंद्र उर्फ लालू, ब्रह्मदत्त त्यागी, धर्मपाल ¨सह, यशपाल ¨सह, रामवीर ¨सह, तिलकराज ¨सह, पुनीत अग्रवाल, शेर ¨सह बौद्ध, वीर ¨सह आदि ने भी अपने विचार प्रकट किए। अध्यक्षता रवि किरण ¨सह गहलोत तथा संचालन ओमपाल ¨सह ने किया।

Posted By: Jagran