गजरौला: नेशनल हाईवे से सटे गांव शहबाजपुर डोर स्थित एक मकान पर धावा बोलकर बदमाश ने परिवार के लोगों को तमंचे के बल पर बंधक बनाकर नगदी समेत एक लाख हजार रुपये का माल लूटकर फरार हो गए। पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पीड़ित ने थाने में तहरीर दे दी है। पुलिस जांच में जुट गई।

नेशनल हाईवे से सटे इस गांव में मंदिर से कुछ फासले पर ब्रह्म सिंह और उसके भाई विजेंद्र सिंह का मकान है। शनिवार की तड़के करीब साढ़े तीन बजे हथियारबंद बदमाश विजेंद्र सिंह की छत पर पहुंचा। यहां पर सो रही उनकी पत्नी आशा व पुत्री अंजली को बाहर से कमरे की कुंडी लगाकर बंद कर दिया। उसके बाद ब्रह्मपाल सिंह के मकान में घुस आए। तमंचे के बल पर सोते परिजनों को जगाकर एक कमरे में बंद कर दिया। डरा-धमकाकर संदूक में रखी 35 हजार की नकदी, एक सोने की चेन, एक अंगूठी व एक जोड़ी चांदी की पाजेब समेत तकरीबन एक लाख रुपये का माल बटोर कर बदमाश मकान के मुख्य दरवाजे से फरार हो गए। उनके जाने के बाद गृह स्वामी ने शोर मचाया तो आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई। जानकारी मिलते ही 100 डायल पुलिस पहुंच गई। उसके बाद प्रभारी निरीक्षक जयवीर सिंह, औद्योगिक पुलिस चौकी प्रभारी सुकर्मपाल सिंह राणा भी पहुंच गए। घटनास्थल का मुआयना कर बदमाशों को तलाश किया लेकिन शनिवार की देरशाम तक बदमाशों का सुराग लगाने में पुलिस विफल थी। इधर प्रभारी निरीक्षक ने दावा किया कि घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही है। गृहस्वामी बदमाश को पहचानते हुए अपने भाई के साले का नाम ले रहा है। कुछ दिन पूर्व उनमें विवाद भी हुआ था। इसकी जांच की जा रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस