अमरोहा। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री कमाल अख्तर ने पुलिस अधीक्षक डॉ. विपिन ताडा को ज्ञापन देकर बीती 21 दिसंबर को शहर में हुए उपद्रव की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की। कहा कि किसी बेकसूर को जेल ना भेजा जाए। एसपी ने उन्हें निष्पक्ष कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। 

प्रतिनिधिमंडल ने की मुलाकात 

शनिवार को समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल पूर्व मंत्री कमाल अख्तर के नेतृत्व में पुलिस अधीक्षक डॉ.विपिन ताडा से मिला और उन्हें ज्ञापन सौंपा। कमाल अख्तर ने आरोप लगाया कि उपद्रव में नामजदगी गलत की गई है। कुछ ऐसे नाम भी हैं, जिनका बवाल से कोई लेना देना नहीं है। बोले, किसी बेकसूर को परेशान नहीं किया जाना चाहिए। पुलिस अधिकारी निष्पक्ष जांच कराएं और जो दोषी हैं उनके खिलाफ ही कार्रवाई करें। वहीं, पुलिस कप्तान ने कहा कि अगर किसी नामजद आरोपित के पास बेगुनाह होने का सुबूत है, तो पुलिस-प्रशासन को दें। महबूब अली ने भी निष्पक्ष जांच कराने की पैरवी की

निष्पक्ष जांच की मांग 

पूर्व कैबिनेट मंत्री व लोकलेखा समिति के सभापति महबूब अली ने भी पुलिस द्वारा की जा रही कार्रवाई को लेकर पुलिस प्रशासन से निष्पक्ष जांच कराने को कहा है। शनिवार को उन्होंने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि नामजद किए गए 55 लोग में कई लोग निर्दोष हैं। 

 

Posted By: Narendra Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस