अमरोहा : कपड़ा रंगाई फैक्ट्री व गोदाम में आग लग गई। वहां रखा सारा सामान जलकर राख हो गया। दमकल कर्मियों ने स्थानीय लोगों की मदद से आधी रात के बाद जाकर आग पर काबू पाया। इस घटना से हड़कंप मचा रहा। आग लगने के कारण स्पष्ट नहीं हो सके हैं।

यह घटना नौगावां सादात थाना क्षेत्र के गांव फरीदपुर के पास की है। कस्बा के मुहल्ला नई बस्ती निवासी बाबू अंसारी की यहां पर कपड़ा रंगाई की फैक्ट्री है। फैक्ट्री के इसी अहाते में जैकेट सिलाई का काम भी होता है। साथ ही दोनों काम का यहां गोदाम भी है। इनमे कच्चा माल व तैयार माल रखा जाता है। शुक्रवार शाम बाबू अंसारी व श्रमिक फैक्ट्री बंद कर घर चले गए थे। रात लगभग 11 बजे संदिग्ध परिस्थितियों में फैक्ट्री में आग लग गई। गांव के लोगों ने फैक्ट्री से आग की लपटें उठती देखीं तो मौके पर पहुंच गए। उस समय तक आग फैक्ट्री व गोदाम को अपनी चपेट में ले चुकी थी। आग इतनी तेज हो गई थी कि गांव के लोगों की हिम्मत फैक्ट्री के अहाते में जाने की नहीं हुई।

ग्रामीणों की सूचना पर बाबू अंसारी भी आ गए। सूचना पाकर दमकल कर्मी व थाना पुलिस भी आ गई। स्थानीय लोगों के साथ मिलकर आग पर काबू पाने का प्रयास किया। आधी रात के बाद जाकर मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। इस घटना से हड़कंप मचा रहा। घटना में फैक्ट्री में रखा सारा सामान जलकर राख हो गया। आग लगने के कारण स्पष्ट नहीं हो सके हैं। माना जा रहा है कि शार्ट सर्किट से घटना हुई है। फैक्ट्री स्वामी ने बताया लगभग 50 लाख रुपये के नुकसान का अनुमान है। आग कैसे लगी इस बारे में कुछ जानकारी नहीं है।

Edited By: Jagran