गजरौला : नेशनल हाईवे पर जनसंख्या समाधान फाउंडेशन की रविवार को दिल्ली जंतर मंतर पर हुई रैली में शामिल होकर लौट रहे लोगों से भरी ट्रैक्टर-ट्राली में एक कैंटर के टक्कर मार दी। इससे ट्रैक्टर-ट्राली पलट गई और उसमें सवार लोग नीचे दब गए। हादसे में एक की मौत हो गई। जबकि दस लोग घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया। यह हादसा हाईवे पर गांव कांकाठेर के पास रविवार की रात करीब 1 बजे हुआ। थाना नौगांवा सादात के गांव कूड़ा माफी निवासी 45 वर्षीय जगदीश सहित करीब दर्जनभर ग्रामीण एक ट्रैक्टर-ट्रॉली में सवार होकर दिल्ली से लौट रहे थे। यहां एसआर पेट्रोल पंप के समीप तेज रफ्तार कैंटर ने पीछे से टक्कर मार दी। परिणाम स्वरूप ट्रैक्टर-ट्राली दो भागों में बंट गई। वहीं उसमें सवार लोग उछल कर अलग-अलग गिरने से घायल हो गए। एक ग्रामीण के पैर कैंटर के पहिए के नीचे दब गए। मौके पर जुटे लोगों ने पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी। इसके बाद घायलों को औद्योगिक क्षेत्र के एक निजी अस्पताल पहुंचाकर प्राथमिक उपचार दिलाया। यहां से गंभीर हालत वाले पांच घायलों को मेरठ रेफर कर दिया गया। मेरठ के नागर अस्पताल में जगदीश को मृत घोषित कर दिया। जबकि अन्य महावीर, सतीश, बांके व हुकुम सिंह को भर्ती कर उपचार दिया गया। यह सभी जनसंख्या फाउंडेशन की दिल्ली में रैली में शामिल होकर लौट रहे थे। हादसे की जानकारी मिलते ही फाउंडेशन के पदाधिकारी भी मौके पर पहुंच गए थे। उधर, कैंटर को पुलिस ने पकड़ लिया है। जबकि चालक मौके से फरार हो गया। प्रभारी निरीक्षक डीके शर्मा ने बताया कि कैंटर को पकड़ लिया गया है। हालांकि उसका चालक हाथ नहीं आया है। पुलिस ने हादसे का मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया है। वहीं हादसे के बाद हाईवे पर जाम भी लगा गया था। क्रेन के द्वारा क्षतिग्रस्त वाहनों को हटवाने के बाद यातायात सुचारू हो पाया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस