जोया: बेखौफ चोरों ने कोतवाली से दो सौ मीटर दूर स्थित कारोबारी के घर में घुसकर 16 लाख की नकदी व सोना चांदी के जेवरात समेत लगभग 35 लाख का सामान चोरी कर लिया। पड़ोस में रहने वाले निजी चिकित्सक के घर में भी घुसने का प्रयास किया मगर सफल नहीं हुए। तीसरे घर में जाग हो गई तथा एक चोर को दबोच लिया। परंतु साथी उसे छुड़ा कर ले गए। पुलिस रात ही घटनास्थल पर पहुंच गई थी।

चोरी की यह घटना डिडौली की है। यहां हाईवे के एक तरफ कोतवाली है तो दूसरी तरफ लगभग दो सौ मीटर दूर ट्रैक्टर की खरीद फरोख्त करने वाले अहमद हसन उर्फ पप्पू मिस्त्री का मकान है। इन दिनों घर में बेटी की शादी की तैयारी चल रही हैं। लिहाजा नकदी व जेवरात भी घर में रखा था। बुधवार रात वह पत्नी अनीसा बेगम, बड़े बेटे व पुत्रवधू के साथ नीचे बरामदे में सो रहे थे। रात में किसी समय चोर दीवार फांदकर कर घर में घुस गए। सीधे सीढि़यों से होते हुए दुमंजिले पर पहुंच गए। कमरे का ताला तोड़ लिया। अलमारी में रखी 16 लाख की नकदी व लगभग 15 लाख के सोना चांदी के जेवरात समेत 35 लाख रुपये का सामान चोरी कर लिया।

लगभग तीन बजे उनका बेटा उठा तो घटना की जानकारी हुई। इसके अलावा चोरों ने पड़ोस में रहने वाले डा इरफान के घर में भी घुसने की कोशिश की। परंतु कामयाब नहीं हो सके। यहां पर चोर घर के बाहर लगे सीसीटीवी की केबल काट गए। बाद में पड़ोस में रहने वाले मुजस्सिम के घर में दीवार फांदकर घुस गए परंतु मुजस्सिम जाग रहा था। उसने एक चोर को दबोच लिया। उसके अन्य साथी उसे छुड़ा कर ले गए। इन घटनाओं से गांव में दहशत का माहौल बना हुआ है।

कोतवाली से महज दो सौ मीटर दूर हुई इन घटनाओं को लेकर लोग परेशान हैं। पुलिस सूचना मिलने पर रात ही मौके पर आ गई थी। अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

तीन बार बदली तहरीर

जोया: नकदी व जेवरात समेत 35 लाख रुपये का सामान चोरी किए जाने के मामले को पुलिस शुरुआत से ही शक की नजर से देख रही है। रात जब पुलिस पहुंची तो स्वजन का कहना था कि चोर सीढि़यों का गेट भीतर से बंद कर गए हैं। पुलिस का सवाल है कि जब चोर सीढि़यों का गेट भीतर से बंद कर गए हैं तो वह निकले किधर से हैं। फिर पुलिस को सीढि़यों का दरवाजा खुला मिला। स्वजन चोरों के छत से कूद कर जाने से इन्कार कर रहे हैं। इतना ही नहीं पीड़ित परिवार ने पहले 16 लाख की नकदी व जेवरात समेत 35 लाख रुपये चोरी होने की जानकारी दी थी। परंतु तीन बार तहरीर बदली तथा अंतिम तहरीर में नकदी व जेवरात की कीमत का हवाला नहीं दिया।

गृहस्वामी की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। सभी बिदुओं को ध्यान में रख कर जांच शुरू कर दी है। जल्दी ही चोरों को गिरफ्तार कर घटना का पर्दाफाश किया जाएगा।

रमेश सहरावत, एसओ।

Edited By: Jagran