अमरोहा : मोबाइल कंपनी की तरफ से लाटरी लगने का झांसा देकर साइबर ठगों ने किसान से 15 लाख रुपये ठग लिए। दस बार में यह रकम छह खातों में ट्रांसफर कराई गई। पुलिस अधीक्षक के आदेश पर छह खाताधारक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

देहात थानाक्षेत्र के गांव भटपुरा सकैनिया में भगवान सिंह का परिवार रहता है। पेशे से किसान भगवान सिंह के मोबाइल पर नवंबर, 20 में अज्ञात नंबर से काल आई थी। फोन करने वाले ने उन्हें बताया कि आइडिया कंपनी की तरफ से तुम्हारी 22 लाख 75 हजार 800 रुपये की लाटरी लगी है। बगैर बीमा कराए यह धनराशि नहीं मिलेगी। बीमा कराने के नाम पर ठगों ने उनसे सवा लाख रुपए अपने खाते में ट्रांसफर करा लिए। यह खाता सुनीता के नाम से एचडीएफसी बैंक में संचालित है।

आरोप है कि इसके बाद भी साइबर ठगों ने अलग-अलग तारीखों में उनसे पैसे अपने पांच अन्य खातों में ट्रांसफर करा लिए। उन्होंने अंतिम बार बीती 19 अगस्त 2021 को 30 हजार ट्रांसफर कराए। कुल मिलाकर ठगों ने दस बार में 15 लाख रुपए छह खातों में ट्रांसफर कराए। बाद में ठगी का अहसास होने पर पीड़ित ने आरोपितों को फोन कर पैसे वापस मांगे। पीड़ित ने घटना की जानकारी थाना पुलिस को दी तो कोई सुनवाई नहीं हुई। लिहाजा उन्होंने एसपी पूनम को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की। एसपी के आदेश पर इस मामले में छह खाताधारक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। साइबर सेल व देहात पुलिस मामले की जांच कर रही है। दो हजार वापस भी किए

अमरोहा: ठगी का अहसास होने व लगातार पैसे मांगे जाने से आहत किसान ने साइबर ठगों से घरेलू खर्चे के पैसे भी न होने का हवाला दिया था। इस पर ठगों ने अगस्त माह में फोन-पे के माध्यम से उसके खाते में खर्च के लिए दो हजार रुपये वापस भी किए।

एसपी के निर्देश पर छह खाताधारकों के खिलाफ धोखाधड़ी और आइटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज की गई है। साइबर सेल के साथ मिलकर मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपितों को पकड़ लिया जाएगा।

सुनील मलिक, एसओ देहात।

Edited By: Jagran