अमेठी: मोहनगंज थानाक्षेत्र के कोटवा भदसाना मोड़ के निकट अज्ञात लोगों ने एक दुकान में आग दी। देखते ही देखते दुकान में रखा सारा सामान जल गया। जिससे पीड़ित की कमाई का जरिया खत्म हो गया। दुकानदार ने अज्ञात लोगों के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। समाचार लिखे जाने तक मुकदमा दर्ज नहीं हो सका था।

मिली जानकारी के अनुसार भदमर निवासी संदीप कुमार चौरसिया कोटवा भदसाना मोड़ पर नहर की पटरी के किनारे चाय नाश्ता का होटल चलाकर परिवार का भरणपोषण करता था। लेकिन अराजक तत्वों को यह नागवार गुजरी और वह उसकी दुकान को आग के हवाले कर उसे चौपट कर दिया । पीड़ित ने बताया कि सोमवार की शाम लगभग साढ़े छह बजे दुकान बंद कर वह घर चला गया था। तभी मौका पाकर अराजक तत्वों ने उसकी दुकान में आग लगाकर भाग निकले। आग से उसका लगभग 25 हजार का नुकसान हुआ है। इंस्पेक्टर विश्वनाथ यादव ने तहरीर मिलने की पुष्टि करते हुए बताया कि प्रकरण की जांच कराई जा रही है। दोषियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। उन्हें छोड़ा नहीं जाएगा। कमरे के अंदर लटकता मिला नाबालिग का शव

अमेठी: घर के अंदर कमरे में नाबालिग का शव संदिग्ध परिस्थितियों में दुपटटा के सहारे पंखे से लटका मिला। ग्रामीणों ने बिना पुलिस को सूचना दिए शव को उतार दिया। परिजनों की सूचना पर डायल 112 व थाने की पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

थानाक्षेत्र के बनभरिया में सोमवार सुबह लगभग नौ बजे जगप्रसाद की 16 वर्षीय घर के अंदर कमरे में दरवाजा अंदर से बंद कर फांसी लगा ली। परिजनों की माने तो मृतका के पिता मजदूरी करने गए थे। घर पर वह अकेली थी। जब मृतका की मां किसी काम से कमरे में गई, तो फंदे से लटकता देख कर चिल्लाने लगी। शोरगुल सुनकर पहुंचे ग्रामीणों ने आनन-फानन में शव को नीचे उतारा। डायल 112 पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। थानाध्यक्ष शिवाकांत पांडेय ने बताया कि परिजनों के द्वारा मिली सूचना पर जांच कर कार्रवाई की जा रही है।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट