अमेठी : कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी का पिंडारा ठाकुर गांव शनिवार से डिजिटल हो गया। इसके साथ ही यहां के लोगों की उम्मीदें भी बढ़ गई हैं। युवाओं में स्वरोजगार को लेकर नई ललक जगी है तो गांव की सुविधाएं भी शीघ्र ही हाईटेक करने का दावा किया जा रहा है।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पिंडारा ठाकुर गांव को जिले का पहला डिजिटल गांव घोषित करते हुए प्रमाणपत्र सौंपा। गांव में कॉमन सर्विस सेंटर व कौशल विकास की योजनाओं के सहारे सबकुछ बदलने का ताना-बाना तैयार किया गया है, जिसका परिणाम 15 सितंबर तक पूरी तरह से दिखने लगेगा। डिजिटल गांव में शुरू हुई ये सुविधाएं

जिले के पहले डिजिटल गांव पिंडारा ठाकुर में कॉमन सर्विस सेंटर के साथ ही वाई-फाई चौपाल, टेली मेडिसिन व प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान, बैंकिंग, एलईडी बल्ब का निर्माण, सेनेटरी नैपकिन बनाने की यूनिट, अगरबत्ती बनाने की यूनिट, डिस्पोजल प्लेट का निर्माण, डिजिटल पेमेंट, ग्रामीण डाकघर सुविधा की शुरुआत हो गई है। ये सुविधाएं भी मिलेंगी

प्रदेश हेड डा. दिनेश त्यागी ने ग्रामीणों को बताया कि डिजी गाव में अब पैनकार्ड, आधार कार्ड, बैंक पासबुक, नेट बैंकिंग प्रणाली आदि की सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी। पिंडारा ठाकुर गांव पर एक नजर

कुल परिवार 386

कुल आबादी 2111

पुरुष 1071

महिला 1040

अनुसूचित आबादी 525

कुल कामगार 1031

साक्षर 1014

(स्रोत : वर्ष 2011 की जनगणना)

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप